मुजफ्फरपुर के मीनापुर क्वारंटाइन सेंटर में करोड़ों के घोटाले मामले को लेकर डीएम ने दिया जांच का आदेश

लाइव सिटीज, अभिषेक/मुजफ्फरपुर :  कोविड-19 के दौरान प्रवासी मजदूरों के लिए बनाये गए क्वारंटाइन सेंटर के नाम पर हुए आपदा की राशि में बंदरबाट का खेल अब धीरे-“धीरे खुलने लगा है,  घोटाले का मामला जिले के मीनापुर के क्वारंटाइन सेंटर के संचालन से जुड़ा हुआ है, जहाँ टेंट एजेंसी के नाम पर फर्जी बिल बनाकर तकरीबन दो करोड़ की राशि भुगतान करने का मामला प्रकाश में आया है. ये बातें मीनापुर के राजद विधायक मुन्ना यादव ने बीतें दिनों प्रखण्ड की समीक्षा बैठक के दौरान ये सवाल उठाया था.

मीनापुर के राजद विधायक मुन्ना यादव ने कहा कि जिस टेंट एजेंसी का अस्तित्व ही नही है ऐसे में फर्जी कागज तैयार कर प्रखंड में 43 क्वारंटीन सेंटर के संचालन में जरूरी सामानों की आपूर्ति एव जेनरेटर के नाम पर करोड़ों की राशि की निकासी बगैर अधिकारियो के मिलीभगत के संभव ही नही है.



वंही इस मामले में डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने कहा मामला प्रकाश में आया है, लिखित प्रतिवेदन दिया गया है, इसमे हमलोग उच्चस्तरीय जांच करवाएंगे, एक टीम बना रहे है, अगर उसमे किसी भी प्रकार का अनियमितता पाया जाता है तो कठोर कारवाई होगा.