पूर्व मध्य रेलवे ने 31 हजार मास्क और 3300 लीटर सेनिटाइजर तैयार किए

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन है. ऐसे में पैसेंजर ट्रेनों का तो परिचालन स्थगित है परंतु आम लोगों को आवश्यकता के सामान उपलब्ध हो सकें, इसके लिए मालगाड़ियों का परिचालन जारी है . ऐसे चुनौतिपूर्ण समय में भी मालगाड़ियों का परिचालन सुचारू रूप से हो सके इसके लिए पूर्व मध्य रेल के 30 हजार से अधिक रेलकर्मी दिन-रात अपनी ड्यूटी पर तैनात हैं. कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए वर्तमान परिस्थिति में मास्क और सेनिटाइजर का प्रयोग नितांत आवश्यक है . बाजार में मास्क और सेनिटाइजर की अनुपलब्धता को देखते हुए पूर्व मध्य रेल द्वारा इसे खुद तैयार किया जा रहा है .

इसी कड़ी में रेलकर्मियों को मास्क, सेनिटाइजर सहित अन्य सुरक्षात्मक उपकरण उपलब्ध कराने के लिए आज मंडलों एवं कारखाना इकाईयों में 2156 मास्क तथा 400 लीटर सेनिटाइजर बनाए गए. इस प्रकार अब तक लगभग 31 हजार मास्क और 3300 लीटर सेनिटाइजर तैयार किए जा चुके हैं . इसी तरह छिड़काव हेतु 8463 लीटर कीटनाकशक भी बना लिए गए हैं .

धनबाद मंडल द्वारा 9048, दानापुर मंडल द्वारा 2250, समस्तीपुर मंडल द्वारा 1637, सोनपुर मंडल द्वारा 9635, पंडित दीन दयाल उपाध्याय मंडल द्वारा 5467 तथा सवारी डिब्बा मरम्मत कारखाना के रेलकर्मियों द्वारा घर में ही 2700 मास्क तैयार किए गए हैं . इसी तरह धनबाद मंडल द्वारा 2850 लीटर, दानापुर मंडल द्वारा 90 लीटर, समस्तीपुर मंडल द्वारा 38 लीटर, सोनपुर मंडल द्वारा 18 लीटर, पंडित दीन दयाल उपाध्याय मंडल द्वारा 224 लीटर तथा सवारी डिब्बा मरम्मत कारखाना द्वारा 40 लीटर सेनिटाइजर तैयार किए गए हैं . दानापुर मंडल द्वारा 8000 तथा पंडित दीन दयाल उपाध्याय मंडल द्वारा छिड़काव हेतु 463 लीटर कीटनाकशक भी तैयार किए गए हैं .