मीसा के सीए की बढ़ी मुश्किलें, फिर लिए गए 2 दिनों की रिमांड पर

लाइव सिटीज डेस्क : आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती के चार्टर्ड एकाउंटेंट राजेश अग्रवाल की आज पटियाला कोर्ट में पेशी हुई. सुनवाई के बाद राजेश अग्रवाल को दो दिन के रिमांड पर फिर से भेज दिया गया है. दरअसल, प्रवर्तन निदेशालय ने यह दलील दी की मीसा के सीए राजेश अग्रवाल से कुछ और बिन्दुओं पर पूछताछ करना शेष रह गया है. जिसे कोर्ट ने मंजूर करते हुए राजेश अग्रवाल की रिमांड दो दिन और बढ़ा दी है. 

बता दें कि इससे पहले भी सीए राजेश अग्रवाल का प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में अवधि को सात दिन के लिए बढ़ा दिया गया था. राजेश अग्रवाल को कथित रूप से मनी लांड्रिंग से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार किया गया था. 

मालूम हो कि मीस के सीए राजेश अग्रवाल को ईडी ने 8000 करोड़ के घोटाले के मामले में गिरफ्तार कर दिल्ली के पटियाला कोर्ट में पेश किया था. जहां से सीए राजेश अग्रवाल को तीन दिन की रिमांड पर भेज दिया गया था. ईडी की हिरासत में तीन दिन की अवधि पूर्ण होने पर राजेश को शुक्रवार को अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अजय पांडे की अदालत में पेश किया गया. ईडी ने यह कहकर उनकी हिरासत अवधि बढ़ाने का अनुरोध किया कि जांच के दौरान एकत्रित किए गए विभिन्न दस्तावेजों और बयानों के बाबत उनसे पूछताछ की जानी है. जिसके बाद 7 दिन के रिमांड पर लेने की और भी अनुमति दे दी गई थी.

बचाव पक्ष के वकील ने किया था विरोध

हालांकि बचाव पक्ष के वकील शैलेन्द्र बब्बर ने इसका विरोध करते हुए कहा कि उनके मुवक्किल के खिलाफ कोई पुख्ता सुबूत नहीं है लिहाजा उनकी हिरासत अवधि बढ़ाना मौलिक अधिकारों का उल्लंघन होगा. राजेश अग्रवाल पर जैन बंधुओं की मदद से संदिग्ध लेन-देन के जरिये कालेधन को आय के वैध स्त्रोत में तब्दील करने का आरोप है.

यह भी पढ़ें-  8000 करोड़ के घोटाले में मीसा भारती के CA राजेश अग्रवाल गिरफ्तार

3 दिनों की रिमांड पर लिए गए मीसा भारती के CA राजेश अग्रवाल