थम गया तीसरे चरण का चुनाव प्रचार का शोर, 7 तारीख को 12 मंत्री समेत 1205 प्रत्याशी के भाग्य का फैसला ईवीएम में होगा बंद

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार विधानसभा चुनाव का प्रचार अभियान गुरुवार को ​थम गया. कहिए कि नेताओं को इससे निजात मिल गई. इस बार दो कैटेगरी की चुनावी सभाएं हुईं, एक्चुअल व वर्चुअल. लगभग एक माह तक हेलीकॉप्टर व वाहनों से नेताजी घूम-घूमकर तमाम विधानसभा क्षेत्रों में लोगों से अपने-अपने प्रत्याशियों को जिताने की अपील की. एनडीए और महागठबंधन के अलावा पप्पू यादव व उपेंद्र कुशवाहा के गठबंधन क्रमश: पीडीए और जीडीएसएफ की ओर से हेलीकॉप्टर किराए पर लिये गये थे. बीजेपी की ओर से जिलों में रथ भी रवाना किये गये थे. सबसे ज्यादा बीजेपी की ओर से लगभग 30 हेलीकॉप्टर उड़ाए जा रहे थे. बाकी राजद व कांग्रेस की ओर से तीन से चार तो लोजपा की ओर से दो और जाप व रालोसपा की ओर से एक-एक हेलीकॉप्टर चुनाव प्रचार के लिए रखे गए थे.

तीसरे और आखिरी चरण में 78 सीटों पर चुनाव होना है. इस फेज में कई दिग्गज राजनेताओं के अलावा स्पीकर, मंत्रियों, उनके रिश्तेदार की अग्नि परीक्षा होने वाली है. इसके साथ ही पक्ष व विपक्ष के कई चर्चित चेहरे हैं. इसमें 12 मंत्रियों की किस्मत का फैसला होने वाला है. मंत्रियों में जदयू कोटे के 8 तथा बीजेपी कोटे के 4 मंत्री शामिल हैं. इनके अलावा दिवंगत मंत्री विनोद सिंह तथा दिवंगत मंत्री कपिलदेव कामत के रिश्तेदार भी इसी राउंड में किस्मत आजमा रहे हैं. इस दृष्टिकोण से तीसरा व फाइनल राउंड बेहद खास हो गया है.



बता दें कि इस बार कुल 31 मंत्रियों में से 24 चुनाव लड़ रहे हैं. इसमें से पहले चरण में 8 तथा दूसरे चरण में 4 मंत्रियों की किस्मत इवीएम में बंद हो गई है, जबकि अंतिम चरण में 12 मंत्री किस्मत आजमा रहे हैं. तीसरे चरण की वोटिंग 7 नवंबर को होगी. इस चरण में कुल 1205 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. इसमें 110 महिलाएं हैं.

बिहार के 15 जिलों पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, सहरसा, दरभंगा, वैशाली, मुजफ्फरपुर और समस्तीपुर में वोटिंग होगी. वहीं पोलिटिकल डेटा के अनुसार, इस फेज में सबसे ज्यादा आरजेडी 66 सीटों पर चुनाव लड़ रहा है. वहीं महागठबंधन के घटक दलों में शामिल कांग्रेस 25, माले 7 व सीपीआई दो सीटों पर उम्मीदवारों को उतारा है. इसके अलावा एनडीए की ओर से बीजेपी 35, जेडीयू 37, व वीआईपी 5 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. वहीं, लोजपा 41, जाप 50 तथा रालोसपा 25 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.