पूर्व राजद विधायक संजय यादव ने कोर्ट में किया सरेंडर, भेजे गए जेल

लाइव सिटीज डेस्क : गोड्डा जिले के पूर्व राजद विधायक संजय यादव ने सोमवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया है. संजय यादव पर गैस बॉटलिंग प्लांट निर्माण कार्य में मारपीट और रंगदारी का आरोप था. संजय यादव ने बांका के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शत्रुघ्न सिंह की अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया. अदालत ने उन्हें जेल भेज दिया है. जानकारी के मुताबिक, गोड्डा के पूर्व विधायक संजय यादव पर बाराहाट मधुसूदनपुर स्थित आईओसीएल की गैस रिफिलिंग जय माता दी कन्सट्रक्सन प्लांट के बेगूसराय निवासी साइट इंचार्ज भूषण सिंह व उनके अन्य सहयोगी कर्मियों के साथ मारपीट करने का आरोप था.

बता दें कि उनपर भागलपुर के DIG विकास वैभव ने दबिश बढ़ा दी थी. वे पिछले साल से ही गायब चल रहे थे. भागलपुर के डीआईजी विकास वैभव के कड़े रूख और बांका कोर्ट के गिरफ्तारी आदेश के बाद उन्हें गिरफ्तार करने की कवायद भी तेज हो गई थी. बांका पुलिस ने पूर्व विधायक के घर पर इश्तेहार चिपका कर उन्हें सरेंडर करने की मोहलत दी थी. इसे लेकर बाराहाट पुलिस ने ढाका मोड़ स्थित उनके घर पर इश्तेहार भी चिपकाया था.

पूर्व विधायक संजय यादव को जेल ले जाती पुलिस

मालूम हो कि पूर्व विधायक पर रंगदारी, मारपीट, लूट, जान से मारने की धमकी व आर्म्स एक्ट के तहत 12 मई, 2017 को बाराहाट थाना कांड संख्या 244/17 में साइट इंचार्ज ने प्राथमिकी दर्ज करायी थी. उसके बाद से पूर्व विधायक कुछ दिनों तक भूमिगत हो गये थे. लेकिन, बाद में कोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी. गिरफ्तारी पर रोक की मियाद पूरी होने पर हाईकोर्ट ने नया आदेश जारी करते हुए चार सप्ताह के अंदर कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया था. गिरफ्तार होंगे पूर्व विधायक संजय यादव, कोर्ट ने दिया आदेश  

मारपीट की घटना 10 मई, 2017 की है. इस मामले में हाईकोर्ट ने भी पूर्व विधायक संजय यादव की अग्रिम जमानत रद्द करते हुए उन्हें चार सप्ताह के अंदर कोर्ट में हाजिर होने का आदेश दिया था. इसके कारण संजय यादव ने सोमवार को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शत्रुघ्न सिंह की अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया. नीतीश कुमार ने बदला शिक्षा और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को 

About Ranjeet Jha 2861 Articles
I am Ranjeet Jha (पत्रकार)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*