लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : आपने सोफिया रोबोट के बारे में तो सुना ही होगा. कुछ समय पहले इस ह्युमनोइड रोबोट को लेकर पूरी दुनिया में हो-हल्ला था. इस रोबोट को सउदी अरबिया ने नागरिकता दी है. सोफिया ने दुनिया भर की मीडिया को अपना इंटरव्यू दिया था. भारत में भी सोफिया का आना हुआ था. लेकिन अब बिहार के पड़ोसी राज्य रांची से बड़ी खबर आ रही है. रांची में कुछ इसी तरह का रोबोट बनाया गया है, नाम दिया गया रश्मि रोबोट.

पहले बात करते हैं सोफिया की. सोफिया की सबसे बड़ी खासियत है कि वो दुनिया के कई भाषाओं में बोल सकती है. वहीं वो आदमी की तरह ही हाव-भाव को एक्सप्रेस कर सकती है और इंसानों की तरह ही हर प्रकार के कामों को कर सकती है. सेफिया को खास तौर पर लोगों से सीखने और उनके साथ काम और बातें करने के लिए बनाया गया है. ब्रिटिश अभिनेत्री ऑड्रे हेपबर्न की तरह दिखनेवाली सोफिया ह्युमनोइड रोबोट 21वीं सदी का एक बहुत ही बड़ा आविष्कार है.

कई भाषाओं में बोल सकती है रश्मि

अब बात करते हैं रांची में बनाये गये ह्युमनोइड रश्मि रोबोट की. रश्मि रोबेट रांची के रहनेवाले रंजीत कुमार श्रीवास्तव ने तैयार किया है. रंजीत ने अपने इस ह्युमनोइड रोबोट को ‘रश्मि’ नाम दिया है. रंजीत पेशे से मार्केटिंग का काम करते हैं, लेकिन उनकी रोबोट बनाने की जिद का ही कमाल है कि आज भारत में भी ह्युमनोइड रोबोट तैयार हो सकता है.

Ravi-prakash
Ravi-prakash

सीनियर जर्नलिस्ट रविप्रकाश ने अपने फेसबुक पोस्ट में रंजीत द्वारा बनाए गए रश्मि नाम के इस रोबोट के बारे में बताया है. अपने फेसबुक पोस्ट में पत्रकार ​रविप्रकाश ने बताया है कि उन्होंने रंजीत के साथ रश्मि रोबोट का भी इंटरव्यू लिया. इस दौरान उन्होंने रश्मि रोबोट से मैथ का सवाल किया. तब रोबोट ने अपनी तार्किक शक्ति का परिचय देते हुए तपाक से कहा कि आप ये कैलकुलेटर से भी जान सकते हैं. हालांकि बाद में रश्मि रोबोट ने इसका एकदम सही व सटीक जवाब दिया.

सीनियर जर्नलिस्ट रविप्रकाश ने किया है इंटरव्यू

सीनियर जर्नलिस्ट रविप्रकाश के इंटरव्यू में रंजीत ने बताया कि रश्मि रोबोट दुनिया के कई भाषाओ में बात कर सकती है. उन्होंने बताया कि ये अंग्रेजी तो बोल ही सकती है, मराठी, हिंदी और भोजपुरी भाषा में भी बात कर सकती है. हालांकि रविप्रकाश ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि रश्मि भोजपुरी तो नहीं, लेकिन फरार्टेदार हिंदी जरूर बोलती है.

rashmi
रश्मि

रंजीत की ओर से बनाये गये इस ह्युमनोइड रश्मि रोबोट भारत के रोबोटिक क्षेत्र में काम रहे और इसकी पढ़ाई कर रहे कई लोगों के लिए एक प्रेरणा है. रंजीत ने इस रोबोट को बिना किसी ओर से सहायता लिये तैयार किया है. लेकिन अगर रंजीत के इस हुनर को आगे और मौका मिले तो हो सकता है कि रश्मि को सोफिया के लेवल तक बनाया जा सके. वहीं ये भी मुमकिन है कि भारत को उसकी पहली ह्युमनोइड रोबोट नागरिक ​रश्मि के रूप में मिल जाए.

आपको बता दें कि पत्रकार रविप्रकाश के साथ आप रोबोट रश्मि का इंटरव्यू डीडी बिहार पर सोमवार को दोपहर दो बजे देख सकते हैं. सीनियर जर्नलिस्ट रविप्रकाश कई अखबारों के संपादक रह चुके हैं. इससे पहले कलर्स टीवी के लिए करण जौहर ने इंटरव्यू किया था, जिसका प्रसारण नवंबर के तीसरे पखवारे में हुआ था. इतना ही नहीं, जी न्यूज पर भी रश्मि रोबोट का इंटरव्यू दिखाया गया था, जिसे सन्नी शरद ने लिया था.