हर दिन 5-6 घंटे की मेहनत ने प्रियांशु को बनाया कॉमर्स का स्टेट टॉपर

लाइव सिटीज डेस्क (राज विमल) : मंजिलें उन्ही को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है, पंखो से कुछ नहीं होता हौसलों से उडान होती है . इस कहावत को सच कर दिखाया कॉमर्स संकाय के टॉपर प्रियांशु जायसवाल ने, जिन्होंने बेहद कम संसाधन में टॉप कर के अपना तथा अपने परिवार का नाम रौशन किया. 

कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स से कॉमर्स की पढाई करने वाले प्रियांशु ने अपनी सफलता का श्रेय अपने शिक्षको तथा अपने परिजनों को दिया . पिछले वर्ष पूरे देश में बिहार सरकार की किरकिरी होने के बाद इस बार बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने प्रदेश में कदाचार मुक्त परीक्षा करवाने के लिए कड़े इन्तेजाम किये थे. ताकि  किसी भी प्रकार की धांधली न होने पाए , ऐसे में प्रियांशु ने कॉमर्स संकाय में 500 में से 408 अंक लाकर अपने परिजनों को खुशियाँ मनाने का मौका दिया .



प्रियांशु ने लाइव सिटीज से हुई बातचीत में  बताया कि वह हर दिन 5 से 6 घंटे पढाई करते थे और अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ते रहे. उहोने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी और  बिहार विद्यालय परीक्षा समिति का आभार प्रकट किया. प्रियांशु के पिता एक छोटे व्यवसायी है जो कलकत्ता में रहते है. जबकि प्रियांशु यहाँ अपने रिश्तेदार के घर रह कर पढाई करता है . प्रियांशु ने कहा कि वह चार्टेड अकाउंटेंट बनना चाहता है. जिसके लिए उसने वकायदा तैयारी भी शुरू कर दी है.

अपनी हॉबी  पूछने पर प्रियांशु ने बताया की उसे क्रिकेट खेलना और देखना दोनों बहुत ही पसंद है.  साथ ही उसे गाने सुनना बड़ा अच्छा लगता है . प्रियांशु के परिजन बताते हैं कि प्रियांशु अपनी पढाई को लेकर शुरू से काफी गंभीर है और परीक्षा के दिनों में इसने जम के पढाई की थी.

यह भी पढ़ें-  सेल्फ स्टडी रहा बिहार टॉपर खुशबू का सक्सेस मंत्र
यह भी पढ़ें-  Exclusive : परिश्रम का कोई विकल्प नहीं है- आनंद किशोर
Special : रिजल्‍ट बहुत खराब है, पास से अधिक फेल हैं, DU के Top10 कॉलेजों में नहीं दिखेगा बिहार