किसानों की मौत पर भड़के तेजस्वी, कहा- क्या यही है New India

लाइव सिटीज डेस्क : मध्य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस फायरिंग में 5 किसानों की मौत के बाद से जहां आन्दोलन और भी ज्यादा उग्र हो गया है वहीं सियासत भी गरमा गई है. पुलिस फायरिंग में किसानों की मौत की खबर से  बिहार में भी राजनेताओं का गुस्सा फूट पड़ा है. बिहार के मुख्य मंत्री नीतीश कुमार, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद व बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने मध्य प्रदेश में हुई इस घटना पर आक्रोश जताया है. 

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि मध्य प्रदेश में किसानों पर की गई कार्रवाई दुर्भाग्यपूर्ण एवं चिंताजनक है. वहीं राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने भी हमला बोला है. उन्होंने कहा कि MP में अपना हक़ माँग रहे अन्नदाताओं को BJP सरकार द्वारा गोली से मरवाने की घटना बेहद दुखद, घोर निंदनीय, अति शर्मनाक व अमानवीय है. लालू प्रसाद ने आगे कहा कि तानाशाही भाजपा द्वारा किसानों की माँगो को कुचलने नहीं देंगे. हम ग़रीब, मज़दूर और किसानों के समर्थन में मज़बूती से खड़े है.

किसान की हुई मौत से बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने भी मध्य प्रदेश में हुए किसानों की मौत पर मध्य प्रदेश सरकार को घेरा है. तेजस्वी ने कहा कि सीमा पर जवानों तो सीमा के अंदर जवानों के पिता किसानों को गोलियों से मरवाया जा रहा है. क्या अन्नदाताओं पर गोलियाँ चलाना ही New India है? 

बता दें कि मंदसौर में किसानों की हड़ताल के छठे दिन फोर्स की फायरिंग की वजह से हालात बिगड़े हुए हैं. पुलिस फायरिंग में 5 लोग मारे गए हैं. प्रशासन ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए मंदसौर में कर्फ़्यू लगा दिया है. घटना के तुरंत बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई और मामले की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए हैं. साथ ही मृतकों को 1 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देने की भी घोषणा की गई है.

यह भी पढ़ें- तेजस्वी के अंग्रेजी का उड़ाया था मजाक, अब खुली डिबेट की मिली है चुनौती