सीतामढ़ी में जमीनी विवाद में जमकर हुई गोलीबारी, इलाके में दहशत, जांच में जुटी पुलिस

लाइव सिटीज,अभिषेक/मुजफ्फरपुर,सीतामढ़ी : सीतामढ़ी जिले के रीगा थाना क्षेत्र के भवदेपुर चंदन नगर ताबड़तोड़ गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा. जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर फायरिंग हुई. जिससे पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी. गोलीबारी में एक शख्स को हाथ में गोली लगी है, जबकि दो लोग जख्मी हो गए है.

बताया जा रहा है कि जिले के डुमरा के शंकर चौक निवासी बिट्टू कुमार जो की कोचिंग करके अपने दोस्त को उसके घर छोड़ने गया था. इस दौरान उसके बाएं हाथ मे गोली लग गयी. वही दो लोग और जख्मी हुए है. घायलों की पहचान चंदन नगर निवासी कमलेश कुमार व सोनू कुमार के रूप में की गयी है. वही दो जख्मी लोगों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है.



घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी. लोगी की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच करने में जुट गयी है. मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि रास्ते के विवाद में दो पक्षों में गोलीबारी हुई है. दोषियों की पहचान की जा रही है. जल्द ही उन्हें सलाखों के पीछे भेज दिया जाएगा.बता दें कि तीन नये कृषि कानून के विरोध में पूरे भारत में बंद था. किसानों के भारत बंद का कांग्रेस समेत करीब 22 विपक्षी पार्टियों का समर्थन था. सुबह से ही बिहार समेत देश के अन्य राज्यों में बंद का मिला जुला असर देखने को मिला.

उधर किसानों के समर्थन में जाप सुप्रीमो पप्पू यादव अपने अलग स्टाइल में उतरे. वे इनकम टैक्स गोलंबर से डाकबंगला चौराहा तक मार्च किया. वे हल-कुदाल के साथ सड़क पर उतरे. कृषि बिलों का विरोध किया. उन्होंने कहा कि किसानों-मजदूरों के अधिकारों को छीना जा रहा है. वे अपना जीवन बचाने को खेत छोड़ सड़क पर उतरे हैं. मोदी सरकार की नजर किसानों की जमीन पर है. सरकार सस्ते दाम पर किसानों की जमीन पूंजीपतियों को देना चाहती है.

उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि अब तो सहयोगी दल भी बीजेपी का साथ छोड़ रहे हैं. प्रकाश सिंह बादल ने अपना पद्म विभूषण लौटा दिया, जबकि पंजाब-हरियाणा के खिलाड़ी भी अपना पुरस्कार लौटा रहे हैं. सरकार अन्नदाताओं को परेशान कर रही है. हम हर परिस्थिति में किसानों के साथ खड़े हैं.

उधर, शिवहर में बैलगाड़ी पर सवार होकर आरजेडी विधायक चेतन आनंद निकले. उन्हें देखने के लिए लोगों की भीड़ लग गई. बंद के समर्थन में वे बैलगाड़ी पर सवार थे. आनंद मोहन एवं लवली आनंद के बेटे चेतन फर्स्ट टाइमर विधायक हैं.