जोकीहाट चुनाव से पहले MP सरफराज आलम के खिलाफ महापंचायत का फैसला, मिली 48 घटें की मोहलत

लाइव सिटीज, पटना डेस्कः 28 मई को जोकीहाट विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने जा रहे हैं. सियासी पारा चढ़ा हुआ है. इसी बीच अररिया के सांसद और आरजेडी नेता सरफराज आलम के खिलाफ डॉक्टरों ने पूरी तरह से मोर्चा खोल दिया है. सांसद की दबंगई के विरोध में जनता के बीच महापंचायत लगाने का ऐलान भी किया है.

डॉक्टर को धमकी देना का है मामला

सदर अस्पताल के प्रभारी उपाधीक्षक डॉ. जेएन माथुर को सांसद द्वारा धमकी मिलने और इस्तीफा देने के बाद आईएमए, भासा, जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन, संविदा चिकित्सक सभी ने एक साथ आपात बैठक बुलाई. आईएमए हॉल में एक घंटे तक चली बैठक में डॉक्टरों ने सांसद के खिलाफ नई रणनीति बनाई.

आईएमए ने दी 48 घंटे की मोहलत

सभी संघ ने सांसद को 48 घंटे की मोहलत दी है और कहा है कि सांसद सरफराज आलम डॉक्टरों से माफी मांगे नहीं तो 48 घंटे बाद अररिया में महापंचायत लगाया जाएगा. यहां तक अररिया चलो का नारा देकर सभी डॉक्टर अररिया में गोलबंद होंगे और जनता के बीच स्वास्थ्य व्यवस्था ठप करने का ऐलान तक कर सकते हैं. बैठक में आईएमए के अध्यक्ष डॉ. सहजानंद, भासा के डॉ. रणजीत, जेडीए के डॉ. विनय आदि मौजूद थे.

जदयू ने बताया राजनीतिक लंपटीकरण

उधर इस मुद्दे को जदयू ने लपकने का काम किया है. डॉक्टरों के सरफराज आलम के खिलाफ विरोध पर जदयू के प्रवक्ता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने कहा कि आरजेडी का राजनीतिक लंपटीकरण समाप्त नहीं हुआ है. फिलहाल इस मामले पर राजद की ओर से कोई बयान नहीं आया है.

आपको बता दें कि अररिया के सांसद सरफराज आलम पर सदर अस्पताल के प्रभारी उपाधीक्षक डॉ. जे एन माथुर को धमकी देने का आरोप लगा है. आरजेडी सांसद की धमकी से आहत डॉ. माथुर ने पद से त्यागपत्र दे दिया. डॉ माथुर ने आरोप लगाया कि मोबाइल से फोन कर सांसद ने मुझ पर कई आरोप लगाते हुए अमर्यादित लहजे में पद से हटवाने की धमकी दी.

About Md. Saheb Ali 3465 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*