प्रियंका गांधी की एक ना चली,छोड़ना पड़ा आशियाना, दिल्ली लोधी एस्टेट रोड बंगला को किया खाली

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को आखिरकार अपना बंगला खाली करना ही पड़ा. 1 अगस्त तक बंगला खाली करने के विभाग के आदेश के पहले ही प्रियंका गांधी ने आज दिल्ली स्थित लोधी एस्टेट रोड वाले सरकारी बंगले को खाली कर दिया. अब इस बंगले में बीजेपी सांसद अनिल बलूनी रहेंगे.

केन्द्रीय शहरी एवं आवास मंत्रालय की ओर से प्रियंका गांधी वाड्रा को लोधी एस्टेट रोड सरकारी बंगला को खाली करने का नोटिस भेजा था. जिसमें 1 अगस्त तक बंगला को खाली करने का आदेश दिया गया था.



बंगला खाली करने के आदेश पर कांग्रेस ने केन्द्र सरकार के खिलाफ मोर्चा भी खोला. लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ. साल 2000 में एसपीजी सुरक्षा के कारण प्रियंका गांधी वाड्रा को यह सरकारी आवास आवंटित किया गया था. पिछले 20 वर्षों से प्रियंका गांधी वाड्रा लोधी एस्टेट स्थित इसी सरकारी बंगले में रहती थी.

इस बंगले को बीजेपी सांसद अनिल बलूनी को आवंटित करने के पीछे केन्द्र सरकार ने वजह बताते हुए कहा कि बलूनी को मेडिकल ग्राउंड पर यह सरकारी आवास आवंटित किया गया है. बलूनी के अनुरोध के आधार पर खाली होने वाले बंगलों की सूची में 35 लोधी एस्टेट बंगला सूचीबद्ध होते ही उन्हें आवंटित कर दिया गया.

बता दें कि अनिल बलूनी सितंबर 2019 से कैंसर से ग्रस्त होने पर मुंबई में लंबे सयम तक अपना उपचार कराना पड़ा. इसी साल फरवरी में वो दिल्ली लौटे है. दिल्ली लौटने के बाद उन्होंने अपने वर्तमान सरकारी आवास 20 गुरूद्वारा रकाबगंज रोड को स्वास्थ्य कारणों से बदलने की मांग की थी.