पटना के सदाकत आश्रम में पंडित जवाहर लाल नेहरु की मनायी गई 55वीं पुण्यतिथि

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु की देश भर में आज 55वीं पुण्यतिथि मनायी गई. इस अवसर पर दिल्ली के शांतिवन में उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है. कांग्रेस के कई नेता वहां पंडित नेहरु को श्रृद्धांजलि देने के लिए इकट्ठा हुए है. यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी शांतिवन पहुंचकर पंड़ित नेहरु को याद किया और उन्हें श्रृद्धांजलि दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उन्हें याद करते पंडित जवाहर लाल नेहरु जी को श्रृद्धांजलि दी. उन्होंने आगे कहा कि हम देश के लिए उनके द्वारा दिए गए योगदान को कभी नहीं भूल सकते.

आपको बता दें कि पटना के सदाकत आश्रम में पंडित जवाहर लाल नेहरु की 55वीं पुण्यतिथि मनायी जा रही है. बिहार कांग्रेस मुख्यालय में श्रद्धासुमन अर्पित किए गए. इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, चन्दन बागची, पूर्व कार्यवाहक अध्यक्ष, अनिल शर्मा आदि गणमान्य मौजूद रहे. इस मौके पर मदन मोहन झा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि पूरा देश पंडित नेहरु जी को याद कर रहा है. उनके सिखाये सिद्धान्तों का अनुसरण करने की जरूरत हैं. साथ ही महागठबंधन की बड़ी हार पर भी उन्होंने कहा कि इसकी समीक्षा करेंगे. तेज प्रताप पर कहा कि ये राजद का आपसी विषय है.



पार्टी के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोहरा ने भी उन्हें श्रृद्धांजलि दी. देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी इस दौरान पंड़ित नेहरू को श्रृद्धांजलि देने के लिए पहुंचे. साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री और पार्टी के नेता मनमोहन सिंह ने भी उन्हें नमन कर याद किया. उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने ट्वीट किया कि पंडित जवाहरलाल नेहरु को आज उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि. आधुनिक भारत के निर्माण में उनका योगदान हमेशा याद रखा जाएगा.

वहीं केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्विट कर पंडित नेहरु को याद किया. उन्होंने लिखा भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु की पुण्यतिथि के अवसर पर हमारे समाज और राष्ट्र में उनके योगदान को याद कर रहा हूं. मैं उन्हें श्रद्धांजलि देता हूं.

गौरतलब है कि आज ही के दिन वर्ष 1964 में देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने दुनिया को अलविदा कहा था. उनका जन्म 14 नवंबर 1989 को हुआ था. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नेहरू बहुत लोकप्रिय थे और उनके जैसी लोकप्रियता बहुत कम लोगों को हासिल हुई.