10 बार सांसद रहे सोमनाथ चटर्जी को पार्टी ने निकाला था बाहर, पढ़ें पूरा राजनीतिक करियर

former lok sabha speaker, somnath chatterjee, passes away

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः लोकसभा के पूर्व अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी का निधन हो गया. अपने राजनीतिक जीवन में 10 बार सांसद रहे चटर्जी को दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. दो दिनों से उन्हें वेटिंलेटर पर रखा गया था. पिछले महीने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष को मस्तिष्काघात हुआ था. सोमनाथ चटर्जी 89 साल के थे.

1968 में शुरू हुआ राजनीतिक करियर

बता दें कि पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी मशहूर वकील निर्मल चंद्र चटर्जी के बेटे हैं. निर्मल चंद्र अखिल भारतीय हिंदू महासभा के संस्थापक भी थे. सोमनाथ चटर्जी ने सीपीएम के साथ राजनीतिक करियर की शुरुआत 1968 में की और 2008 तक इस पार्टी से जुड़े रहे. 1971 में वह पहली बार सांसद चुने गए और इसके बाद राजनीति में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखे. चटर्जी 10 बार लोकसभा सदस्य के रूप में चुने गए.

जब सीपीएम ने पार्टी से निकाला

वर्ष 2008 में भारत-अमेरिका परमाणु समझौता विधेयक के विरोध में सीपीएम ने तत्कालीन मनमोहन सरकार से समर्थन वापस ले लिया था. तब सोमनाथ चटर्जी लोकसभा अध्यक्ष थे. पार्टी ने उन्हें स्पीकर पद छोड़ देने के लिए कहा लेकिन वह नहीं माने. इसके बाद सीपीएम ने उन्हें पार्टी से निकाल दिया.

ममता बनर्जी से हार गए चुनाव

राजनीतिक करियर में एक के बाद एक जीत हासिल करनेवाले सोमनाथ चटर्जी जीवन का एक चुनाव पश्चिम बंगाल की वर्तमान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से हार गए थे. 1984 में जादवपुर सीट पर हुए लोकसभा चुनाव में ममता बनर्जी ने तब सीपीएम के इस कद्दावर नेता को हराया था.

About Md. Saheb Ali 3764 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*