‘गुड़ खाना है मगर गुलगुले से परहेज है’, जेडीयू और बीजेपी के बीच कंफ्यूजन पैदा करना चाहते हैं चिराग: गिरिराज सिंह

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: एलजेपी के अध्यक्ष चिराग पासवान इन दिनों सुर्ख़ियों में बजे हुए हैं. उनकी राजनीति किसी के समझ से परे है. एक तरफ एनडीए से अलग होने बावजूद भी चिराग पीएम मोदी को उनका हनुमान बताते हैं. तो दूसरी तरफ भाजपा ने इस बात को खारिज कर दिया है. बावजूद इसके चिराग ने अपनी राजनीति करनी नहीं छोड़ी है. वो अब भी इस बात पर डटे हुए हैं कि पीएम मोदी और उनके रिश्ते के बारे में वह किसी को कुछ बताना जरुरी नहीं समझते हैं.

इसी कड़ी में अब बेगूसराय के फायर ब्रांड नेता और बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह ने भी चिराग पर निशाना साधा है. गिरिराज सिंह ने कहा कि चिराग पासवान बीजेपी और जेडीयू के बीच कंफ्यूजन फैलाना चाहते हैं. उन्होंने सवाल किया कि चिराग को तेजस्वी यादव के विरोध में बोलते तो नहीं देखा? चिराग पासवान सिर्फ नीतीश कुमार के खिलाफ बोलेत हैं तेजस्वी यादव के खिलाफ नहीं बोलते. उन्हें यह साफ करना चाहिए कि तेजस्वी के विरोध में वह क्यों नहीं बोलते हैं? उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी ने कहा है कि उनका नेतृत्व नीतीश कुमार कर रहे हैं. बीजेपी अध्यक्ष ने कहा है कि नीतीश ही नेतृत्व करेंगे. गृहमंत्री अमित शाह ने भी कहा है कि अगर हमसे कम सीटे आएंगी तो भी नीतीश कुमार ही हमारा नेतृत्व करेंगे. अब ये जो कह रहे हैं कि मैं मोदी का हनुमान हूं तो मुझे लगता है कि ये बोल तो रहे हैं कि राम का हूं लेकिन अंदर से रावण को जप रहे हैं.



उन्होंने आगे कहा कि चिराग पासवान नीतीश कुमार पर तो निशाना साधते हैं लेकिन तेजस्वी के बारे में कुछ क्यों नहीं बोलते. इससे साफ़ यह पता चलता है कि ने कहा कि ये जेडीयू और बीजेपी के बीच कंफ्यूजन पैदा करना चाहते हैं. गुड़ खाना है मगर गुलगुले से परहेज है. यहां तो गुलगुला नीतीश कुमार हैं. मेरा राजनीतिक मतभेद हो सकता है लेकिन जो पार्टी ने निर्णय किया है उसके लिए एनडीए के खून का एक- एक कतरा नीतीश कुमार के लिए बहेगा.