राहुल गांधी की मानसरोवर यात्रा को गिरिराज सिंह ने कहा झूठ, तस्वीर को बताया फोटोशॉप

rahul gandhi, mansarovar yatra, kailash yatra, राहुल गांधी, शिव भक्त, मानसरोवर यात्रा, कैलाश यात्रा, गिरिराज सिंह, बिहार, नवादा, फोटोशॉप

लाइव सिटीज डेस्क: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की कैलाश मानसरोवर यात्रा पर भारतीय जनता पार्टी शुरू से सवाल खड़ा कर रहा है. आज राहुल गांधी के कैलाश मानसरोवर यात्रा की कुछ तस्वीरें और वीडियो सामने आया है. इस तस्वीर को लेकर बिहार के नवादा जिले के सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने विवाद खड़ा कर दिया है. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी की इस यात्रा को ‘फर्जी’ बताया है.

गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी की यात्रा की एक तस्वीर अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट की है. गिरिराज ने कहा है कि ‘ये तो फोटोशॉप है. छड़ी की परछाई गायब है.’ दरअसल, भाजपा नेता ने राहुल गांधी की एक तस्वीर पोस्ट की है. इस तस्वीर में कांग्रेस अध्यक्ष एक छड़ी पकड़े हुए हैं. इस तस्वीर में दोनों व्यक्तियों की परछाई तो नजर आ रही है लेकिन छड़ी की परछाई गायब है.

ये तो फ़ोटोशॉप है …छड़ी की परछाईं ग़ायब है

बता दें कि राहुल गांधी ये तस्वीरें आज ही सुबह सोशल मीडिया पर शेयर हुई हैं. न्यूज एजेंसी ANI की ओर से जारी राहुल की मानसरोवर यात्रा की तस्वीरें और वीडियो जारी किए गए हैं. इस वीडियो में राहुल गांधी कैंप पर कुछ लोगों के साथ बातें करते हुए नजर आ रहे हैं. वहीं, दूसरी तस्वीर में राहुल गांधी कुछ लोगों के साथ तस्वीरें खिंचवाते हुए नजर आ रहे हैं. गिरिराज सिंह ने राहुल की इस तस्वीर को साझा किया है. और इसे फोटोशॉप बताया है.

भाजपा राहुल की इस यात्रा पर शुरू से ही निशाना साध रही है. भाजपा ने कहा है कि यात्रा पर गए राहुल गांधी वहां भी राजनीति करने से नहीं चूक रहे. जबकि भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने राहुल की कैलाश यात्रा को एक ढोंग बताया है. कांग्रेस पहले ही यह बता चुकी है कि राहुल गांधी शिवभक्त हैं. खुद राहुल गांधी ने कहा है कि कर्नाटक विधानसभा चुनावों के दौरान उनमें कैलाश मानसरोवर यात्रा करने की इच्छा जगी.

यह भी पढ़ें – कैलाश मानसरोवर यात्रा पर हैं राहुल गांधी, पहली बार सामने आया वीडियो और फोटो

About Razia Ansari 1935 Articles
बोल की लब आज़ाद हैं तेरे, बोल जबां अब तक तेरी है

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*