पटना की बेटियों ने डीजीपी से पूछा-सर, 6 बजे के बाद बाहर की दुनिया क्यों नहीं देख पाते?

DGP गुप्तेश्वर पांडेय (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से लड़कियों ने बड़ा सवाल किया है. बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय उस वक्त सन्न रह गए, जब उनसे भरी सभा में लड़कियों ने अपनी परेशानी बताई और सवाल पूछने शुरू कर दिए. दरअसल हम और आप जिस समाज में रहते हैं, उस समाज की बहू-बेटियों पर क्या बीत रही है? इसे जानने की बिहार पुलिस ने हिम्मत जुटायी थी.

पटना के ज्ञान भवन में डीजीपी के नेतृत्व में खास आयोजन किया गया था. इस दौरान जब पटना की बच्चियों ने तीखे सवाल करने शुरू किए, तब पुलिस अधिकारियों के होश फाख्ता हो गए. खुद डीजीपी ने भी नहीं सोचा था कि इऩ बच्चियों पर क्या बीत रही है? पटना पुलिस द्वारा आयोजित इस संवाद में शामिल छात्राएं स्कूल-कॉलेज की थीं.

बिहार पुलिस सप्ताह के मौके पर पटना के ज्ञान भवन में डीजीपी छात्राओं के साथ संवाद के लिए पहुंचे थे. पटना के विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों से पहुंचीं बच्चियों ने पहले तो कार्यक्रम में मौजूद अधिकारियों की बातें ध्यान से सुनीं. इसके बाद जब उनकी बारी आई तो उनकी आप बीती और तीखे सवालों ने पुलिसकर्मियों का दिल बेध दिया.

लड़कियों ने जो बातें बयां कीं, उससे यही लगा कि क्या घर, क्या बाहर, क्या सड़क, क्या मुहल्ला ये बच्चियां कहीं महफूज नहीं हैं. संवाद में मौजूद डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय को भी इस बात का आभास नहीं था कि ये बच्चियां बेबाकी और बहादुरी के साथ अपनी बातें रखेंगी. डीजीपी ने माना कि कुछ मामलों को छोड़ दें तो सड़क छाप मजनुओं की समस्या युवतियों के लिये बड़ी चुनौती है.

उन्होंने दावा किया कि छेड़खानी पर रोक लगाने के लिए पुलिस ऐसा अभियान चलाएगी कि सभी मनचलों की आखिरी मंजिल जहन्नुम होगी. बिहार पुलिस छात्राओं की उम्मीदों पर कितना खरा उतरेगी? यह बता पाना फिलहाल मुश्किल है लेकिन अगर डीजीपी अपने दावे और वायदे पर खरे उतरते हैं तो इऩ बच्चियों के लिये ये ताउम्र नहीं भूल पाने वाली सौगात होगी.

About Md. Saheb Ali 4676 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*