लॉकडाउन में बंद स्कूलों को खोलने पर विचार कर रही सरकार, इस माह में खुल सकते हैं शैक्षणिक संस्थान

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: देश में कोरोना वायरस के मामले 20 लाख के पार चले गये हैं. लेकिन इन हालातों के बीच केंद्र सरकार दोबारा से स्कूल खोलने की योजना पर काम कर रही है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार केंद्र सरकार ने एक सितंबर से नवंबर के बीच कई चरणों में स्कूल शैक्षणिक संस्थानों समेत खोलने की तैयारी में जुट गई है. जिसे लेकर सरकार तैयारी में जुट गई है. आपको बता दें कि कोरोना संकट के कारण मार्च के आखिरी हफ्ते से ही सभी स्कूल बंद हैं.

सरकार की योजना के पहले चरण में 10वीं से 12वीं के छात्रों के लिए स्कूलों को खोला जाएगा, उसके बाद 6ठीं से 9वीं के लिए स्कूलों को खोलने की योजना है. स्कूल टाइमिंग को आधा कर दिया जाएगा. अगर स्कूल में चार सेक्शन होंगे, तो एक दिन में सिर्फ दो सेक्शन में पढ़ाई होगी ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा जा सके. कक्षाएं शिफ्ट में करवाई जाएंगी साथ ही स्कूलों को सैनिटाइज़ करने के लिए भी बीच में एक घंटे का वक्त दिया जाएगा. इसके अलावा स्कूलों को 33 फीसदी स्कूल स्टाफ और छात्रों के साथ रन किया जाएगा.



खबरों की मानें तो इसके लिए कोविड-19 का प्रबंधन देख रहे मंत्रियों के एक समूह को जिम्मेदारी सौंपी गई है. स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन मंत्रियों के इस समूह की अध्यक्षता कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि इस महीने के अंत तक कोरोना के लिए फाइनल अनलॉक गाइडलाइन जारी होने की उम्मीद है जिसमें इस फैसले को नोटिफाई करने का काम सरकार कर सकती है.

रिपोर्ट के अनुसार स्कूलों को खोलने को लेकर फैसले के बारे में इस महीने के अंत तक सरकार दिशानिर्देश जारी कर सकती है. अंतिम निर्णय राज्य सरकारों पर छोड़ दिया जाएगा कि वे कैसे और कब छात्रों को कक्षाओं में वापस स्कूल लाते हैं और कक्षा का संचालन करवाते हैं.