विधानसभा चुनाव के पहले पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडये ने बाबा हरिहरनाथ मंदिर में किया रुद्राभिषेक

पटना, सोनपुर: बिहार विधानसभा चुनाव नजदीक है, ऐसे में आज ही आरजेडी, जेडीयू ने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है. इसी कड़ी में बाबा हरिहर नाथ मंदिर न्यास समिति के अध्यक्ष पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने स्वेच्छा से सेवानिवृत होने के बाद पहली बार बाबा हरिहरनाथ मंदिर में आकर रुद्राभिषेक किया. इन्हें मंदिर न्यास समिति के पुजारी पंडित पी भारद्वाज मद्रासी बाबा एवं सुशील चंद्र शास्त्री द्वारा विधि विधान के साथ रुद्राभिषेक कराया गया.

मौके पर न्यास समिति के सचिव विजय कुमार सिंह लल्ला, पत्रकार विश्वनाथ सिंह, शंकर सिंह, अभय कुमार सिंह, संजीत कुमार, विपीन कुमार मंदिर के सदस्य कृष्णा प्रसाद, रामप्रसाद पंडित समाजसेवी किसलय किशोर, आशुतोष कुमार सहित अनेक लोग उपस्थित हुए.



डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि मैं आज बाबा से आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए आया हूं. उन्होंने पूजा करने के बाद मंदिर प्रांगण में बनाए गए बहुमंजिले इमारत का न केवल स्वयं अवलोकन किया, बल्कि मौके पर भारत सरकार के पूर्व केंद्रीय मंत्री एमएलसी संजय पासवान को भी अपने साथ ले जाकर अवलोकन कराया. मंदिर से निकलते ही गुप्तेश्वर पांडे जिंदाबाद का गगनभेदी नारा लगाया गया.

बताते चलें कि डीजीपी से इस्तीफा देने के बाद तथा जदयू में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा शामिल कराने के पश्चात पहली बार मंदिर में पधारे थे. उन्होंने कहा कि मुझे हमेशा बाबा का आशीर्वाद प्राप्त हुआ है और पुनः बाबा का आशीर्वाद प्राप्त होगा. विधानसभा का चुनाव लड़ने से संबंधित प्रश्न पूछे जाने पर उन्होंने कुछ भी बचाने से इनकार करते हुए संकेत दिया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जो आदेश होगा इसका पालन करूंगा वैसे बिहार की जनता पर इनका गर्व है मैं सदैव सरकारी नौकरी में जनता का सेवक रहा हूं और रहेंगे.

उन्होंने यह भी कहा कि बक्सर का एक- एक मतदाता व्यक्तिगत रूप से जानते पहचानते हैं. उनका प्यार स्नेह दुलार अवश्य मिलेगा. वे बक्सर से चुनाव लड़ेंगे. गुप्तेश्वर पांडेय कहते हैं कि बक्सर मेरा जन्मभूमि है. जन्मभूमि के एक- एक जनता से रूबरू होकर उनके दुख दर्द को समझना जरूरी है तथा उसका निराकरण करना हमारा कर्तव्य बनता है इसलिए मैं बक्सर की एक-एक जनता को अपना भाई समझ कर में उनके दरवाजे पर जाऊंगा और उनसे मतदान करने का आग्रह करुंगा.