हाजीपुर में कोरोना संक्रमित का मिला अधजला शव ! नोच-नोचकर खा रहे थे जानवर

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : पटना से सटे हाजीपुर के कोनहारा घाट पर एक अधजला शव को जानवर नोच नोचकर खा रहे थे. यह खबर पूरे इलाके में आग की तरह फैल गयी. स्थानीय लोग मौके पर पहुंच गए और प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि यह शव कोरोना मरीज का है जिसे दाह संस्कार के लिए यहां लाया गया था. देखते ही देखते वहां सैकड़ों की संख्या में भीड़ इकट्ठा हो गया और लोग हंगामा करने लगे.

मौके पर मौजूद एक महिला ने बताया की प्रशासन की ओर से कोरोना मरीज के शव को यहीं पर जलाया गया, लेकिन शव पूरी तरह जला नहीं जिसके चलते जानवर उसे अपना निवाला बनाने लगे. हंगामे की सूचना पर मौके पर तत्काल पुलिसकर्मी के साथ सदर अस्पताल के कर्मचारी पहुंचे और लोगों की शिकायत को सिरे से खारिज कर दिया.

सिविल सर्जन इंद्रदेव रंजन ने कोरोना मरीज का अधजला शव होने की बात से इनकार करते हुए कहा कि पूरी तत्परता से मृतक कोरोना मरीज का दाह संस्कार संपन्न कराया गया था. जो शव मिला है वह किसी और का है जिसको भी जलाने का आदेश दे दिया गया है.

बता दें कि पटेढ़ी बेलसर के रहने वाले प्रवासी मजदूर राजेश कुमार  जो नोएडा से आया था. राजकीय अंबेडकर आवासीय बालिका विद्यालय में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में जांच रिपोर्ट आने से पहले ही उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.