दिल्ली पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, केंद्र की रिपोर्ट के बाद AES के लिए तय होगी रणनीति

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार के मुजफ्फरपुर में AES से मासूम बच्चों की मौत का सिलसिला रूकने का नाम नहीं ले रहा है. सूत्रों की मानें तो अबतक 65 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है वहीं सरकारी आंकड़ों के मुताबिक 47 बच्चों के मौत की पुष्टि की जा रही है. बच्चों की मौत का आंकड़ा प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है और दर्जनों बच्चे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं.

वहीं AES से हो रही मौतों के बीच स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय आज शाम केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन से मुलाकात करेंगे. मंगल पांडेय ने दिल्ली पहुंचने के बाद कहा कि बच्चों का बेहतर इलाज कराना ही हमारी प्राथमिकता है और हमारी पूरी कोशिश है कि इस बीमारी से बच्चों को बचाया जा सके.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि इस मामले AES से बच्चों की मौत को लेकर स्वास्थ्य विभाग गंभीर है. अस्पताल में आने वाले अधिकतर बच्चे स्वस्थ होकर ही घर जा रहे हैं और केंद्रीय टीम ने भी मुजफ्फरपुर का दौरा किया है. उन्होंने कहा कि केंद्र की टीम मुआयना करने के बाद इस मामले में रिपोर्ट देगी.

आपको बता दें कि गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन और अश्विनी चौबे इस मामले को लेकर मुजफ्फरपुर आने वाले थे लेकिन किसी कारणवश उनका दौरा रद्द हो गया. अब केंद्र की टीम द्वारा रिपोर्ट देने के बाद ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे मुजफ्फरपुर जाएंगे. जानकारी के मुताबिक रिपोर्ट की समीक्षा दिल्ली में ही की जाएगी और उसके बाद आगे की रणनीति तय की जाएगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*