Glacier Breaks Uttarakhand : उत्तराखंड में भारी तबाही, ग्लेशियर के टूटने से 150 लोगों के बहने की आशंका; पीएम मोदी ले रहे पल-पल की जानकारी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : उत्तराखंड (Uttarakhand) में भारी तबाही आ गई है. चमोली (Chamoli) जिले में ग्लेशियर टूटने (Glacier Breaks) से भारी तबाही की आशंका है. इसके चलते अलकनंदा (Alaknanda) और धौली गंगा (Dhauli Ganga) नदी उफान पर हैं. पानी के तेज बहाव में 100 से 150 लोगों के बहने की आशंका है. कई घर बह गए हैं. नदियों के उफान को देखते हुए आस-पास के इलाके खाली कराए जा रहे हैं. प्रशासन (Administration) की ओर से लोगों से सुरक्षित इलाकों में पहुंचने की अपील की जा रही है. असम (Asam) के दौर पर गए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पूरे घटनाक्रम में नजर बनाए हुए हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मैं लगातार उत्तराखंड की स्थिति का जायजा ले रहा हूं.

दूसरी ओर उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत (CM Trivendra Singh Rawat) घटनास्थल पर रवाना हो गए हैं. मौके पर रेसक्यू टीम भी पहुंच चुकी हैं. प्रभावित इलाकों में फंसे लोगों के लिए सीएम ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिया है. NDRF DG एसएन प्रधान ने मीडिया को बताया कि चमोली और जोशीमठ के आसपास ग्लेशियर फटने से बांध पर असर हुआ है. ग्लेशियर ऋषिगंगा पर आकर गिरा है. बीआरओ ने जिस ब्रिज को बना रहा था, उस पर भी असर हुआ है. NDRF की 3-4 टीमों को मौके पर रवाना किया गया है.



उधर, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी उत्तराखंड की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं. उन्होंने कहा कि NDRF की 3 टीमें वहां पहुंच गई हैं, बाकी टीमें दिल्ली से रवाना होने के लिए तैयार हैं. मेरी मुख्यमंत्री से बात हुई है, वो रास्ते में हैं. वायुसेना को बचाव कार्य में लगाने की पूरी तैयार कर ली है. हादसे के लिए जितनी मदद की जरूरत है, वो मदद केंद्र सरकार उत्तराखंड सरकार को देगी.