आंधी-तूफान ने बरपाया कहर, छीन ली 30 लोगों की जिंदगियां

rain
प्रतीकात्मक फोटो

लाइव सिटीज डेस्क :  बिहार में रविवार को आए तेज—आंधी और तूफान से गर्मी से काफी राहत मिली है. रोजेदारों को भी काफी सुकून मिला है लेकिन जानमाल के भारी नुकसान की भी खबर है.  कच्चे मकान के गिरने, पेड़ की डाली के टूट कर गिरने एवं उसके नीचे दबने व ठनका गिरने से 30 लोगों के मौत होने की खबर है. बिजली गिरने से कई लोगों के जख्मी होने की भी जानकारी है. सबसे ज्यादा पश्चिम चंपारण में छह लोगों के मौत होने की खबर है. 

इससे बाद पूर्वी चंपारण एवं जमुई में पांच—पांच, वैशाली में तीन, समस्तीपुर में दो, मधेपुरा एवं मुंगेर में दो-दो, दरभंगा जिले में एक और नवादा में एक व्यक्ति की बिजली गिरने से मौत होने की खबर है. मौसम विभाग के अनुसार, बिहार के कई जिलों में 50 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी आयी. राज्य के सीतामढ़ी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, वैशाली, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, पटना, नालंदा, लखीसराय, मुंगेर, जमुई और छपरा में तेज आंधी चली और बारिश हुई. राजधानी पटना में भी दोपहर 12 बजे के बाद अचानक मौसम का मिजाज बदलने लगा. देखते ही देखते तेज आंधी चलने लगी.



सड़कों पर धूल के कारण कुछ दिखाई नहीं दे रहा था. आसमान में काले बादल छाने लगे. कुछ ही देर में हवा की ठंडक बढ गई और बूंदाबांदी शुरू हो गई और धीरे—धीरे बारिश तेज हो गई. बिजली कड़कने के साथ बारिश और भी तेज होती चली गई. पटना में बारिश बहुज ज्यादा देर तो नहीं रही लेकिन थोड़ी—सी बारिश में ही सड़कों पर जलजमाव हो गया. सेक्रेटेरियेट के पास पेड़ टूटकर गिर जाने से सड़क अवरूद्ध हो गया और देर तक यातायात इससे प्रभावित रहा. 

पश्चिमी चंपारण के योगापट्टी प्रखंड क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर घरों में दबने से पांच लोगों की मौत हो गई. वहीं, साठी में वज्रपात से एक किशोर की मौत हो गई. मृतकों में प्रेमशीला कुमारी, संभा देवी, रीमा कुमारी, मैनेजर चौधरी, चंद्रावती व मुकेश कुमारशामिल हैं.
नवादा के कौआकोल प्रखंड क्षेत्र के गुआघोघरा में महिला की और महापुर के बघार में एक पशु की मौत ठनका गिरने से हो गयी. बताया जाता है कि महिला 50 वर्षीय सुमा देवी खेत में सिंचाई कर रही थी. अचानक तेज आंधी बारिश के साथ ठनका गिरने से महिला की मौत घटना स्थल पर हो गयी जबकि महापुर के सुरेश यादव के बैल की मौत हो गयी.

पूर्वी चंपारण के जिले के अलग-अलग स्थानों पर ठनका गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई जबकि एक युवक गंभीर रूप से जख्मी हो गया. मृतकों में सुनीता देवी, मीना देवी, सुशीला देवी, वीणा कुमारी और कंत लाल राय के नाम शामिल हैं.

समस्तीपुर के कल्याणपुर थाना क्षेत्र के मुसेपुर गांव में पेड़ गिरने से दबकर सैलून संचालक महेश ठाकुर की मौत हो गई. सैलून में बैठा रामानंद पासवान गंभीर रूप से जख्मी हो गया. मोहिउद्दीननगर थाना क्षेत्र के महमदीपुर में वज्रपात से राजेश कुमार की मौत हो गई. सीतामढ़ी के बाजपट्टी प्रखंड के रतवारा गांव के सरेह में ठनका गिरने से सुलेखा कुमारी झुलस गई. दरभंगा के केवटी थाना क्षेत्र के दानी गांव निवासी चलितर साह की वज्रपात से मौत हो गई. 

जमुई जिले के गरसंडा गांव में वज्रपात से प्रीतम पांडेय, बरहट प्रखंड के एकटरवा गांव में रेखा देवी व खैरा प्रखंड के खड़ाईंच गांव में सुधा देवी की मौत वज्रपात से हो गई. इसी जिले के टाल सहरसा गांव में दिलीप मांझी की सास व साली भी वज्रपात से मौत हो गई. ये दोनों लखीसराय जिले के कजरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत शिवडीह मुसहरी की निवासी थीं. मुंगेर में सीतारामपुर नजीरा गांव के सुभुकलाल सिंह और सत्यनारायण सिंह की मौत वज्रपात से हो गई.

rain
प्रतीकात्मक फोटो

सुल्तानगंज प्रखंड के बाथ थाना क्षेत्र अंतर्गत खानपुर पंचायत के दौलतपुर गांव में वज्रपात से अजीत कुमार व चंदन कुमार की मौत हो गई. इधर, मधेपुरा के गणेश स्थान गांव में वज्रपात से तीन बालक जख्मी हो गए. बाद में इलाज के दौरान मंजेश कुमार व धीरज कुमार की मौत हो गई. खगडिय़ा जिले के गंगौर गांव के बरेयघाट में वज्रपात से काजल कुमारी की मौत हो गई.

हाजीपुर में रविवार को आंधी व बारिश के दौरान बिजली गिरने से हाजीपुर औद्योगिक थाने के हिलालपुर में देवेंद्र साह के पुत्र विशाल कुमार की मौत हो गई, वहीं राघोपुर के जुड़ावनपुर थाने के पहाड़पुर पूर्वी गांव में पप्पू पासवान की पत्नी मिता देवी की बिजली गिरने से मौत हो गई. उसका 9 वर्षीय पुत्र गोलू कुमार व 7 वर्षीय पुत्री मनीषा कुमारी जख्मी हो गए.

कृषि विश्वविद्यालय, पूसा की मौसम संबंधी भविष्यवाणी में अगले दो—तीन दिनों तक विशेष तौर पर उत्तर बिहार में बादल छाये रहने की उम्मीद जताई है.