लूटो ऑफर में वाहन खरीदते वक्त हुई यह भूल, अब पछता रहे लोग

लाइव सिटीज डेस्क : सुप्रीम कोर्ट ने जैसे ही कहा कि 1 अप्रैल से बीएस थ्री मॉडल की बाइक की बिक्री बंद हो जाएगी. वैसे ही कंपनियों के पसीने छूटने लगे थे. सभी वाहन कंपनियों ने इस मॉडल की गाड़ियों पर भारी छूट का ऑफर दे दिया. नतीजा गाड़ियों को खरीदने के लिए सभी शो रूम में ग्राहकों की अप्रत्याशित भीड़ जमा हो गई. लोगों ने ऑफर का जम कर फायदा उठाया. मिनटों में शो रूम खाली हुई जा रही थी. लेकिन अब वाहन खरीददारों के लिए यही वाहन मुश्किल बढ़ाने लगी है. बीएस थ्री मॉडल की दो पहिया गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन में पेंच फंस गया है. 

सड़क पर बिना रजिस्ट्रेशन के सैकड़ों गाड़ियां दौड़ रही है. इन गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन न होने की वजह यह है कि गाड़ी खरीदने के बाद गाड़ी का इंश्योरेंस डिजिटल के बजाए मैनुअल कराया गया था. इससे यह साबित नहीं हो रहा है कि गाड़ी 31 मार्च को ही खरीदी गई है या 31 मार्च के बाद अप्रैल में खरीदी गई है. 

भारी छूट पर खरीदी गई BS-3 मॉडल की गाड़ियों के सैकड़ों खरीददार अब आरटीओ कार्यालय का चक्कर लगा रहे है. दरअसल, जब उन्होंने बाइक खरीदी तो यह भूल गए कि इंश्योरेंस  इंश्योरेंस का भुगतान ऑनलाइन डिजिटल पेपर पर हुआ है कि मैनुअल. यह भूल अब वाहन स्वामियों पर भारी पड़ रही है.

वजह यह है कि 31 मार्च की रात 12 बजे तक जिन वाहन स्वामियों का कम्प्यूटराइज्ड टैक्स जमा होने पर उसकी कॉपी या फिर इंश्योरेंस की कॉपी है उनका तो रजिस्ट्रेशन अभी तक किया जा सकता है, लेकिन जिनके पास सिर्फ मैनुअल पेपर या फिर कवर कॉपी ही है, उनका रजिस्ट्रेशन फिलहाल आरटीओ कार्यालय में नहीं किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें-  टू व्हीलर : लूट लो ऑफर का आखिरी दिन आज, न लें रजिस्ट्रेशन का टेंशन

लूट लो ऑफर : पटना में हीरो और TVS में स्टॉक खत्म, सुजुकी में उमड़ी भीड़ 

बजाज ने बाज़ार में उतारा नई बजाज पल्सर 150