राजद का बिहार बंद अब 21 दिसंबर को, नीतीश सरकार पर विपक्ष हमलावर

लाइव सिटीज डेस्क : बालू-गिट्टी के नये नियम के विरोध में राजद ने बिहार बंद का ऐलान किया है. इसे लेकर नीतीश सरकार पर राजद लगातार हमलावर बना हुआ है. सोमवार को पटना की सड़कों पर राजद ने प्रदर्शन भी किया था. इसी में 18 दिसंबर को बिहार बंद की घोषणा की गयी थी. लेकिन अब इसकी डेट में बदलाव कर दिया गया है. अब राजद की ओर से बिहार बंद 21 दिसंबर को किया जाएगा. मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार इसके पीछे बालू मामले पर हाईकोर्ट में चल रही सुनवाई है, साथ ही उसी दिन गुजरात चुनाव का रिजल्ट भी आनेवाला है. चर्चा है कि इसी को लेकर बिहार बंद की डेट में बदलाव किया गया है.

जानकारी के अनुसार बिहार बंद की डेट में बदलाव के बारे में राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने मीडिया को जानकारी दी है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि 18 दिसंबर के बजाए अब 21 दिसंबर को राजद का बिहार बंद होगा. उन्होंने फिर कल की बातों को दोहराते हुए कहा कि यह बिहार बंद बालू नीति के विरोध में किया जा रहा है. रघुवंश सिंह ने कहा कि नीतीश सरकार हाईकोर्ट का आदेश भी नहीं मान रही है.



बिहार : राजद का बिहार बंद 18 दिसंबर को , बालू-गिट्टी के नये नियम के खिलाफ किया प्रदर्शन

बता दें कि बिहार में बालू-गिट्टी मामले को लेकर राजद की ओर से सोमवार को पटना में प्रदर्शन किया गया था. इसी दौरान बालू-गिट्टी के नये नियम के विरोध में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार बंद की घोषणा की थी. इसी में कहा गया था कि राजद ने सरकार का ध्यान आकृष्ट करने के लिए यह विरोध प्रदर्शन किया है.

रघुवंश प्रसाद सिंह ने बालू के लिए लाये जा रहे नये नियम को मजदूर विरोधी बताया. उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार की गलत नीति के कारण आज हजारों मजदूर बेरोजगार हो गए हैैं. उन्हें काम नहीं मिल रहा है. काम के अभाव में मजदूर भूखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं. उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट ने भी निर्देश दे रखा है. इसके बाद सरकार नहीं मान रही है. सोमवार को भी हाईकोर्ट में इसे लेकर सरकार की फजीहत हुई है. उन्होंने कहा कि बालू-गिट्टी के अभाव में कंस्ट्रक्शन का काम ठप है.

गौरतलब है कि राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी भी नीतीश सरकार पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि जो लोग घोटाले में शामिल हैं, वे क्या आरोप लगाएंगे. बालू माफिया को संरक्षण देने के सवाल पर राजद नेेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि सृजन और शौचालय माफिया को संरक्षण देने वाले और दलित विकास मिशन घोटाले में शामिल लोग हमलोगों पर क्या घोटाले का आरोप लगाएंगे?