अगर ‘स्टार्ट अप’ का आइडिया है तो संपर्क करें, बिहार सरकार देगी आपको फ्री लोन

पटनाः बिहार में युवा उद्यमियों को उद्योग शुरू करने के लिए सीड मनी (बिना ब्याज के लोन) देने की शुरुआत कर दी गई है. इस प्रकार युवा उद्यमियों को आर्थिक सहायता देने वाला, बिहार देश का पहला राज्य बन गया है.

उद्योग विभाग द्वारा सोमवार को अधिवेशन भवन में पर आयोजित कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए विभाग के मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा कि ब्याज रहित ऋण प्राप्त करने के लिए 1800 युवा उद्यमियों ने आवेदन दिए थे. 149 के आवेदन स्वीकार किए गए. पहले चरण में सीड मनी के लिए पचास युवाओं को चयनित किया गया है. इन्हें उद्योग प्रारंभ करने के लिए दस लाख रुपये तक ब्याज रहित ऋण दिए जाएंगे. यह राशि दस साल के बाद वापस करनी होगी.

मंत्री ने युवा उद्यमियों को प्रमाणपत्र देते हुए कहा कि राज्य सरकार युवाओं और महिलाओं को स्वरोजगार के प्रति रुझान पैदा करने का प्रयास कर रही है. उनकी समस्याओं का समाधान करने को तत्पर है. विभाग के प्रधान सचिव डॉ एस सिद्धार्थ ने कहा कि कार्यक्रम से जुड़ने के इच्छुक युवा आवेदन कर सकते हैं. दस दिनों के भीतर आवेदन स्वीकृत कर लिए जाएंगे.

पटना वीमेंस कॉलेज, मगध महिला कॉलेज और जेडी वीमेंस कॉलेज से शुरुआत की जाएगी. इस अवसर पर विकास आयुक्त शिशिर सिन्हा ने कहा कि को जमीनी स्तर पर उतारने की आवश्यकता है. इस मौके पर बड़ी संख्या में युवा उद्यमी उपस्थित थे.

यह भी पढ़ें-

मधेपुरा में गरजे पप्पू, कहा- हालात कंट्रोल में नहीं, जिन्दा जला दो अपराधियों को
रामनाथ कोविंद से मिल नीतीश ने दी बधाई, अब राज्यपाल चले दिल्ली
BSEB में 10वीं पास के लिए निकली वैकेंसी, वेतन 17-18 हजार रूपये