आरके सिन्हा ने कहा- नक्सलियों को जेल नहीं, घेर कर मार दो

r-k-sinha123
आरके सिन्हा, भाजपा राज्य सभा सांसद (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : सुकमा नक्सली हमले में 25 जवानों की शहादत से पूरे देश की जनता में आक्रोश व्याप्त है. सड़क से लेकर संसद तक लोग गुस्से में हैं. भाजपा से राज्यसभा सांसद आर के सिन्हा ने नक्सली हमले के बाद बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि नक्सलियों ने जो हमारे देश के सैनिकों के साथ किया है इसके लिए उन्हें कटाई छोड़ना नहीं चाहिए. उन्होंने कहा कि इन नक्सलियों को पकड़ कर जेल में डालने से बेहतर है कि इन्हें घेर कर मार दिया जाए.   

इधर, पूरा देश पीएम मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह से नक्सली हमले में शहीद हुए जवानों का बदला लेने की मांग कर रहा है.  मामले की गंभीरता को देख सरकार भी नक्सली से आर-पार की लड़ाई के मूड में आ गई है. इसके लिए रणनीति बनाई जा रही है. इसकी जिम्मेदारी मोदी के भरोसे मंद और देश के सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को दी गई है. 



नक्सलियों पर एक्शन लेने के लिए अजीत डोभाल 2 मई को आला अधिकारियों की बैठक लेंगे. इस बैठक में छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंने और डोभाल इसे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करेंगे. बता दें कि सुकमा हमले के बाद अजीत डोभाल को एक्शन की कमान सौंपी गई थी और उसी सिलसिले में यह बैठक बुलाई गई है.

बताया जाता है कि सरकार ने आरपार की रणनीति बनाने का निर्णय लिया है. यही वजह है कि सर्जिकल स्ट्राइक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अजीत डोभाल को इसकी रणनीति बनाने की कमान सौंपी गई है. ऑपरेशन क्लीन चलाकर अटैक की रणनीति पर काम किया जा रहा है.’ आईजी सिन्हा ने बताया, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह और मुख्यमंत्री रमन सिंह से बस्तर के ताजा हालात की जानकारी ली है.

यह भी पढ़ें-  नक्सलियों पर बड़े एक्शन की तैयारी में डोभाल