अभी कैंसिल कर लें दार्जिलिंग-गंगटोक की ट्रिप, हालात अच्छे नहीं हैं

लाइव सिटीज डेस्कः समर वैकेशन के दिन चल रहे हैं. स्कूलों में अभी कुछ और दिनों की छुट्टियां बाकी हैं. ऐसे में, क्या आपने सैर पर जाने को अभी दार्जिलिंग-गंगटोक जाने का प्लान कर रखा था. यदि हां, तो तुरंत कैंसिल कर लीजिए. दार्जिलिंग के हालात ठीक नहीं हैं. जो पर्यटक पहुंचे हुए हैं,उन्हें भी दार्जिलिंग छोड़ वापस जाने को कह दिया गया है. बेमियादी बंद का आंदोलन चालू हो गया है. सिक्किम की राजधानी गंगटोक में कोई परेशानी नहीं है,पर जाने-आने के रास्ते में संकट है. दार्जिलिंग के हालात तो ऐसे हैं कि आर्मी को तैयार रहने को कहा गया है.

दार्जिलिंग के क्षेत्र में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा का प्रभाव है. इस गोजमुमो के लीडर विमल गुरुंग हैं. दार्जिलिंग के हालात पिछले हफ्ते ही बिगड़ने शुरु हो गए थे. प.बंगाल की मुख्य मंत्री ममता बनर्जी को एलान करना पड़ा था कि वह हालात सामान्य होने तक पहाड़ छोड़ कर नहीं जाएंगी. तब भी विमल गुरुंग ने कह दिया था कि पर्यटकों को दार्जिलिंग छोड़ना होगा. इस एलान के बाद दार्जिलिंग पहुंचे पर्यटकों की परेशानी बहुत बढ़ गई थी. वापस जाने को पर्याप्त साधन भी नहीं मिल रहे थे.

अब बताया जा रहा है कि मंडे तक दार्जिलिंग में पहुंचे अधिकांश पर्यटक वापस भेज दिए गए हैं. आंदोलन के कारण आगजनी की घटनाएं बढ़ी हुई है. विमल गुरुंग ने कह रखा है कि अभी पर्यटकों की मौजूदगी मंजूर नहीं. बाजार आदि बंद पड़े हैं . ट्रांसपोर्ट सुविधाएं ठप पड़ गई है. सिलीगुड़ी से गंगटोक जाने के रास्ते मे भी प्रॉब्लम पैदा करने की गोजमुमो की कोशिश लगातार जारी है . जानकारी को जान लें कि लोक सभा चुनाव में गोजमुमो भारतीय जनता पार्टी के साथ होती है. गोजमुमो की मदद से ही पहले दार्जिलिंग के सांसद जसवंत सिंह और 2014 में एस एस अहलूवालिया बने. अहलूवालिया अभी केंद्र सरकार में मंत्री हैं.


गोजमुमो के आंदोलन का असर दार्जिलिंग और कर्सियांग के बड़े रेजिडेंशियल स्कूलों पर भी पड़ा है. इन स्कूलों में बिहार समेत कई प्रदेशों के बच्चे पढ़ने को आते हैं. यहां गर्मियों की छुट्टी के बदले सर्दी के सीजन में छुट्टी होती है. एयरलाइन्स और रेलवे के जानकार बताते हैं कि दार्जिलिंग के पहाड़ में चल रहे आंदोलन के कारण बड़ी संख्या में टिकट कैंसिल हुए हैं.

यह भी पढ़े-
Big Crime : चोरों ने तोड़े PNB के 30 लॉकर, करोड़ों का जेवरात ले उड़े
मोदी फेस्ट : स्मृति ईरानी पर गुजरात में युवक ने फेंकीं चूड़ियां
गोपालगंज में डेयरी मालिक को मारी गोली, डेढ़ लाख की लूट