CBI की रिमांड पर शहाबुद्दीन, कहा- नहीं कराऊंगा लाई डिटेक्टर टेस्ट

लाइव सिटीज डेस्क : पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में दसवां आरोपी बनाये गए शहाबुद्दीन ने लाई डिटेक्टर टेस्ट कराने से मना कर दिया है. सीबीआई ने कहा कि मो. शहाबुद्दीन जांच में बिलकुल भी सहयोग नहीं कर रहे हैं.  ऐसे में उनका लाई डिटेक्टर टेस्ट कराना जरूरी है. लेकिन शहाबुद्दीन इसके लिए तैयार नहीं हैं. 

सीबीआई का कहना है कि उनके पास पुख्ता सबूत है कि पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या शहाबुद्दीन के आदेश पर ही की गई थी. बता दें कि शहाबुद्दीन को सीबीआई ने इस मर्डर केस के सिलसिले में पूछताछ करने के लिए 29 मई को 8 दिनों की रिमांड पर लिया था. जहां उनसे लगातार पूछताछ की जा रही थी. लेकिन शहाबुद्दीन राजदेव रंजन से जुड़े मामले में सीबीआई को कुछ नहीं बता रहे हैं. जिसके बाद सीबीआई ने लाई डिटेक्टर टेस्ट कराने का निर्णय लिया. पर, पूर्व बाहुबली सांसद मो. शहाबुद्दीन इसके लिए राजी नहीं हुए. मालूम हो कि जब तक आरोपी की मर्जी न हो तब तक यह टेस्ट नहीं कराया जा सकता है. 

बता दें कि पत्रकार राजदेव रंजन की पिछले साल 13 मई की शाम सीवान में गोली मारकर हत्या अपराधियों ने कर दी थी. उनकी पत्नी आशा रंजन ने सीवान टाउन थाने में अज्ञात हमलावरों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी थी. जांच में लड्डन मियां, मोहम्मद कैफ उर्फ बंटी, रिशु व मोहम्मद जावेद सहित छह के नाम आये थे. इन सभी के खिलाफ पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की थी. बाद में पत्नी की मांग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस मामले की जांच CBI को सौंप दी.

यह भी पढ़ें-  शहाबुद्दीन की मुश्किलें बढ़ीं, CBI हेडक्वार्टर में हो रही पूछताछ