‘रेप बयान’ के बाद अब चाइल्ड ट्रैफिकिंग में फंसी बीजेपी सांसद रूपा गांगुली

rupa-ganguli

लाइव सिटीज डेस्क : पश्चिम बंगाल की भाजपा नेत्री व राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं. अभी रेप संबंधी बयान से घिरी रूपा गांगुली फिर एक नया मामला सामने आ गया है. उनके खिलाफ चाइल्ड ट्रैफिकिंग का आरोप लगाया गया है. इसे लेकर बीजेपी की राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली को सीआइडी ने संज्ञान लेते हुए नोटिस भेजा है. इससे पश्चिम बंगाल में बीजेपी के समक्ष परेशानी बढ़ गयी है.

सूत्रों के अनुसार चाइल्ड ट्रैफिकिंग मामले में बीजेपी नेता रूपा गांगुली के अलावा कैलाश विजयवर्गीय और जूही चौधरी के नाम भी शामिल हैं. इसे लेकर पश्चिम बंगाल में सियासत भी तेज हो गयी है. जगह-जगह उनके पुतले फूंके जाने लगे हैं. युवा तृणमूल कांग्रेस ने आरोपी नेताओं के खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया है. टीएमसी ने आरोपी बीजेपी नेताओं को गिरफ्तार करने की मांग की है.

rupa-ganguli

बता दें कि बीजेपी सांसद रूपा गांगुली पिछले दिनों रेप पर बयान देकर विवाद में फंस गयी है. इसे लेकर उनके खिलाफ 15 जुलाई को प्राथमिकी दर्ज की गयी है. यह मामला कोलकाता के निमता पुलिस थाने में आईपीसी की धारा 505 और 506 के तहत दर्ज किया गया है. तब रूपा गांगुली ने अपने विवादित बयान में कहा ​था कि जो पार्टियां ममता सरकार का समर्थन कर रही हैं, वे अपनी बहू-बेटियों को 15 दिनों के लिए पश्चिम बंगाल भेज कर देखें उनका रेप हो जाएगा.

रूपा गांगुली के इस बयान की काफी आलोचना हो रही है. सोशल मीडिया पर भी यह बयान वायरल हो गया. इसके बाद उनके खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी. अब चाइल्ड ट्रैफिकिंग मामले ने उनकी परेशानी और अधिक बढ़ा दी है. इस पर संज्ञान लेते हुए सीआईडी ने उन्हें नोटिस भेजा है. हालांकि इस बार उनके साथ कैलाश विजयवर्गीय और जूही चौधरी के नाम भी शामिल हैं. इनमें कैलाश वर्गीय भी बड़ा नाम है. ऐसे में इससे पश्चिम बंगाल में भाजपा की परेशानी बढ़ सकती है.

इसे भी पढ़ें : रेप वाले बयान पर घिरीं बीजेपी MP रूपा गांगुली, FIR दर्ज 
BJP नेता रूपा गांगुली पर ममता के मंत्री का हमला, कहा- आपका कितनी बार हुआ रेप