लॉबी डिवीजन से फैसला : नीतीश राजद-कांग्रेस पर खूब बरसे, इशारों में लालू पर भी कसे तंज

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में अब एनडीए की सरकार बन गयी है. आज उसका फ्लोर टेस्ट है. इस दौरान नेताओं की बहस जारी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में कहा है कि मैं एक-एक बात का जवाब दूंगा. उन्होंने अपने संबोधन में राजद और कांग्रेस पर जम कर निशाना साधा. वहीं विश्वास प्रस्ताव लॉबी डिवीजन से किया जा रहा है.

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया है. विधानसभा स्पीकर विजय चौधरी विश्वास ने प्रस्ताव रखा. इस दौरान विश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मर्यादा का उल्लंघन नहीं होना चाहिए. उनका इशारा विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव की ओर था.

नीतीश कुमार ने कहा कि जनता का हित सर्वोपरि है और जनता के हित के लिए यह फैसला लेना पड़ा. बिहार के हित व विकास जरूरी है. उनहोंने लालू प्रसाद पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा कि मेरे लिए सत्ता सेवा करने का जरिया है, न कि मेवा खाने के लिए. उन्होंने यह भी कहा कि धन, संपत्ति अर्जित करने के लिए सत्ता नहीं होती है.

विधानमंडल में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कांग्रेस पर भी जम कर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के समय कांग्रेस को 25 सीटें ही मिल रही थीं. हमने 40 सीटें दिलायीं. उन्होंने कहा कि मैं हर आरोप का बिंदुवार जवाब दूंगा. उन्होंने राजद पर तंज कसते हुए कहा कि हमने महागठबंधन धर्म का पालन किया हूं. हमें महागठबंधन धर्म का पालन करने आता है.

बता दें कि विधानमंडल में विश्वास प्रस्ताव लॉबी डिविजन के तहत हो रही है. इसमें कुछ देर लगने की उम्मीद है. स्पीकर विजय चौधरी ने लॉबी डिवीजन से विश्वास प्रस्ताव करने का आदेश दिया है. लॉबी डिविजन में सभी विधायकों से हां या ना में जवाब लिया जायेगा. बता दें कि एनडीए की ओर से 132 विधायकों का दावा किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें : फ्लोर टेस्ट : नीतीश कुमार व सुशील मोदी पहुंचे विधानसभा, विपक्ष ने गेट रोका, तेजस्वी भी पहुंचे

उपराष्ट्रपति चुनाव : अब NDA में नीतीश, पर UPA कैंडिडेट को ही देंगे समर्थन