वांटेड क्रिमिनल का दिनदहाड़े मर्डर, अपराधियों ने घर के पास ही मारी गोली

पटनाः वांटेड क्रिमिनल की राजधानी में दिनदहाड़े हत्या कर दी गई है. मौत के घाट उतारे गए क्रिमिनल का नाम रमेश गोप उर्फ मखना गोप है. वारदात शनिवार दोपहर दो बजे के करीब की है. कुख्यात मखना की हत्या उस वक्त की गई जब वो अपने घर के पास में ही था. हत्या की ये वारदात राजधानी के दीघा थाना इलाके की है.

दरअसल, रामजीचक इलाके में मखना गोप का घर है. सुबह में ही वो अपने घर आया था. अपराधियों को उसके आने की भनक थी. अपराधी घात लगाए बैठे थे. जैसे ही मखना अपने घर से कुछ दूरी पर था, वैसे ही मौके की ताक में बैठे अपराधियों ने उसे गोली मार दी. अपराधियों ने एक-एक कर दो गोलियां मारी. जिसके बाद वहीं पर मखना की मौत हो गई. जबकि अपराधी आराम से फरार हो गए.

हत्या की जानकारी मिलते ही दीघा थाने की पुलिस टीम पहुंची. फिर कुछ देर में ही डीएसपी लॉ एंड आॅर्डर डॉ. मो. शिब्ली नोमानी पहुंचे. जांच के लिए दानापुर थाने की टीम को भी बुला लिया गया. पुलिस की जांच में कई बातें सामने आईं. डीएसपी लॉ एंड आॅर्डर की मानें तो माखन गोप एक कुख्यात अपराधी था. हत्या, लूट और डकैती की कई वारदातों को इसने अंजाम दिया था. अकेले दानापुर थाना में इसके खिलाफ दो दर्जन से अधिक आपराधिक वारदातें दर्ज हैं.

हाल में ही आया था जेल से बाहर

माखन गोप को पुलिस टीम ने हत्या के एक मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा था. जेल में रहने के बाद वो हाल के दिनों में ही छुटकर बाहर आया था. दानापुर थाने की पुलिस टीम कई केस में इसे तलाश रही थी. मोस्ट वांटेड अपराधियों की लिस्ट में ये शामिल था. गिरफ्तारी से बचने के लिए वो लगातार फरार चल रहा था. दानापुर के आपराधिक दुनिया में मखना गोप की काफी चलती थी. इसने अपना वर्चस्व कायम कर रखा था.

अपराधी रवि पर हत्या का आरोप

जांच करने पहुंची पुलिस टीम के सामने मखना की फैमिली वालों ने अपराधी रवि का नाम लिया है. आरोप है कि रवि ने ही मखना को गोली मारी है. फिलहाल पुलिस टीम पूरे मामले की जांच कर रही है. डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. अब जिस अपराधी का नाम सामने आया है, उसकी कुंडली खंगाली जा रही है. संभावना है कि वर्चस्व की लड़ाई को लेकर अपराधियों के दूसरे गुट ने ही हत्या करवाई होगी.