पत्नी का बुर्का पहन घूम रहे थे पटना के इंजीनियर साहब, अलीगढ़ में धरा गये

लाइव सिटीज डेस्क : पत्नी का बुर्का पहन पटना के इंजीनियर साहब घूम रहे थे, शिकायत मिलने पर पुलिस ने पकड़ लिया. सुरक्षा एजेंसियों ने 25 घंटे तक उनसे कड़ी पूछताछ की. उसके बाद उनको छोड़ा तो गया है, लेकिन उनके जिला छोड़ने पर रोक लगा दी गयी है. इंजीनियर साहब बिहार के पटना के रहनेवाले हैं, किंतु पूरा मामला यूपी के अलीगढ़ का है.

दरअसल पटना के रहनेवाले एक्जीक्यू​टिव इंजीनियर नजमुल हसन का तबादला यूपी के अलीगढ़ में हुआ है. वर्ष वर्ष 2009 से उनकी पोस्टिंग अलीगढ़ के कासिमपुर पावर हाउस में कर दी गयी थी. तब से वे यहीं रहते हैं. मामला चर्चा में तब जब रविवार की देर रात उन्हें अलीगढ़ रेलवे स्टेशन से निकलते देखा. कुछ लोगों ने इसकी सूचना जीआरपी को दी. जीआरपी ने इंजीनियर नजमुल हसन को तुरंत गिरफ्तार कर लिया.

सूत्रों के अनुसार नजमुल की गिरफ्तारी की खबर यूपी प्रशासन को लगी. आनन-फानन में सुरक्षा एजेंसी समेत आइबी, एटीएस व एसटीएफ के अधिकारी पहुंच गये. सोमवार को दिन से लेकर देर रात तक उनसे पूछताछ की गयी. सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने लगभग 25 घंटे से अधिक समय तक उनसे मैराथन पूछताछ की.

पूछताछ में गिरफ्तार इंजीनियर ने बताया कि ईद पर पत्नी और दो बच्चों को वे घर छोड़ने बिहार आये थे. 30 जून को स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस से लौटा तो अलीगढ़ स्टेशन पर ट्रॉली बैग टकराने पर एक यात्री ने उनके साथ मारपीट की. साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी. हालांकि, इसकी रिपोर्ट उन्होंने जीआरपी में नहीं की. इंजीनियर ने यह भी बताया कि रविवार को दिल्ली जाने के लिए वे पत्नी का बुर्का पहनकर ही निकल गये. हालांकि पुलिस को उसकी कहानी पच नहीं रही है.

उधर लंबी पूछताछ के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने कासिमपुर पावर हाउस के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर नजमुल हसन को छोड़ तो दिया है लेकिन उनके जिला छोड़ने पर रोक लगा दी गयी है. नजमुल के फोन कॉल डिटेल्स की जांच की जा रही है, उसके बाद ही क्लीन चिट पर फैसला लिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : भाजपा के नित्यानंद गिरफ्तार, बीफ केस में है हत्या का आरोप