पटना के गांधी मैदान में रावण वध के बाद थोड़ा रुकें, दिखेगा खास नजारा

लाइव सिटीज डेस्कः गांधी मैदान में 30 सितंबर को रावण वध का आयोजन होगा. दोपहर 1 बजे से आम लोगों की इंट्री शुरू होगी. कोई भी व्यक्ति बिना सुरक्षा जांच के प्रवेश नहीं कर सकेगा. गांधी मैदान के हर गेट पर डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर लगाए गए हैं. गेट पर ही महिलाओं की जांच की अलग व्यवस्था रहेगी.

रावण वध के आयोजन के आकर्षण के केंद्र में इस बार आतिशबाजी भी होगी. रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण के दहन के बाद 15 मिनट तक आतिशबाजी होगी. कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा गांधी मैदान जाकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लिया. कहां क्या व्यवस्था होनी है, इस बारे में डीएम और प्रमंडलीय आयुक्त ने मुख्यमंत्री को बताया.

मुख्यमंत्री के निरीक्षण के बाद जिलाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल, एसएसपी मनु महाराज, सिटी एसपी, ट्रैफिक एसपी, एसडीओ, एडीएम लॉ एंड आर्डर सहित सभी पदाधिकारियों की ज्वाइंट ब्रीफिंग हुई. डीएम ने सभी पदाधिकारियों को कहा कि परीक्षा की घड़ी है.

उन्होंने कहा कि सभी अपनी ड्यूटी पर तैनात रहें. अफवाह फैलने की जगह नहीं दें. अफवाहों से सचेत रहना है और सुरक्षा से कोई समझौता नहीं. वहीं एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि मेहनत के साथ ड्यूटी करें. सुरक्षा एक प्वाइंट की नहीं है बल्कि पूरे शहर की सुरक्षा की जिम्मेवारी है.

डीएम ने कहा कि गांधी मैदान में गुरुवार रात दस बजे के बाद डिजनीलैंड और दशहरा मेला नहीं चलेगा. इसे बंद कराने के लिए गांधी मैदान थाना को निर्देश दिया है. मेले में लगे उपकरणों को सुबह तक हटाने के लिए कहा गया है. 29 सितंबर सुबह दस बजे के बाद गांधी मैदान में आम जनों के प्रवेश पर रोक लग जाएगी. इसके बाद 30 सितंबर को ही यहां लोग पाएंगे.

यह भी पढ़ें-

पटना में बेफिक्री से लोग कर रहे हैं प्रतिमा के दर्शन, पुलिस की कड़ी मुस्तैदी
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा
(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)