लालू का फ्रंट-फूट स्ट्रोक : पॉलिटिकल बैटिंग कर BJP के छक्के छुड़ायेंगे…

Lalu

लाइव सिटीज डेस्क : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने एक बार फिर भाजपा के खिलाफ मोर्चा संभाल लिया है. वे खुल कर सामने आ गये हैं. प्रिंट मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक पर वे डटे नजर आ रहे हैं. ट्विटर से लेकर फेसबुक एकाउंट से भाजपा को निशाना बनाये हुए हैं. इसे लेकर उनका नया ट्विटर पोस्ट ने बिहार की सियासत मेें हलचल मचा दिया है. खासकर बैटिंग करते हुए लालू प्रसाद के फोटो कुछ ज्यादा ही चर्चा में हैं.

बता दें कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने 27 अगस्त को भाजपा के खिलाफ तमाम गैर भाजपाई दलों को पटना बुलाया है. उस दिन पटना के गांधी मैदान में विशाल रैली होगी. इसमें भाग लेने के लिए कोलकाता की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बसपा सुप्रीमो यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती समेत देश के कई दिग्गज नेताओं को बुलाया गया है. इनमें से ममता बनर्जी और मायावती ने लालू प्रसाद के निमंत्रण को स्वीकार भी कर लिया है.

 

इधर रैली की तैयारी को लेकर अपने ट्विटर एकाउंट पर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने अपना पुराना फोटो लगाया है. उस फोटो में वे बैटिंग करते नजर आ रहे हैं. इतना ही नहीं, फोटो में लालू प्रसाद क्रिकेट के यूनिफॉर्म में नजर आ रहे हैं. इसके साथ उन्होंने ट्वीट किया है – ‘सभी ग़ैर-भाजपाई दलों को 27 अगस्त को गांधी मैदान, पटना में BJP के ख़िलाफ़ फ्रंट-फूट पर बल्लेबाजी कर छक्के छुड़ाने के लिए सादर आमंत्रित करता हूं’ यह ट्वीट बिहार के राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दिया है.

इसके साथ ही राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने रविवार को भी ट्वीट कर भाजपा पर करारा हमला किया है. उन्होंने जमशेदपुर में बच्चा चोर के नाम पर हो रही हत्याओं पर ट्वीट करते हुए लिखा है — ‘BJP शासित राज्यों में भाजपाइयों का भगवा गमछा किसी को भी मारने का लाइसेंस बन चुका है. देश नकारात्मकता और अराजकता के घनघोर अंधेरे में जी रहा है.’ गौरतलब है कि जमशेदपुर में बच्चा चोर के नाम पर अब तक आठ हत्याएं हो चुकी हैं. इसे लेकर वहां तनाव बना हुआ है.

मालूम हो कि मीडिया में पिछले दिनों अचानक खबर आयी कि लालू प्रसाद के 22 ठिकानों पर इनकम टैक्स ने छापा मारा है. इसके बाद अचानक बिहार की राजनीति गरमा गयी. इसे लेकर लालू प्रसाद का बयान आया कि पहले ये बताओ कि वे 22 ठिकाने कौन कौन से हैं.

बाद में राजद सुप्रीमो ने मीडिया से कहा कि हमारी 27 अगस्त की रैली को लेकर भाजपा बौखला गयी है और मुद्दे को मोड़ने के लिए तरह तरह का आरोप उन पर और उनके परिवार वालों पर लगा रही है.