पटना के ‘सुपर-30’ वाले आनंद पर बन रही है फिल्म, लीड रोल में होंगे रितिक रोशन

लाइव सिटीज डेस्कः मैथ्स का नाम सुनते ही कई लोगों के पसीने छूट जाते हैं. हमारे बॉलिवुड के कलाकार भी इससे अछूते नहीं है, मगर अब हैंडसम हीरो रितिक रोशन अपनी अगली फिल्म में एक ऐसे शख्स का किरदार निभाने जा रहे हैं, जो मैथ्स में माहिर है. असल में रितिक का यह किरदार SUPER-30 के संस्थापक आनंद कुमार की जीवन पर आधारित होगा, जो पटना में गरीब तबके के छात्रों को IIT के काबिल बनाने के लिए मशहूर हैं.

जाने-माने निर्देशक विकास बहल इस फिल्म का निर्देशन करेंगे. हालांकि फिल्म का नाम अभी तक तय नहीं हुआ है, लेकिन माना जा रहा है कि इसका नाम सुपर-30 ही होगा. फिल्म में दिखाया जाएगा कि किस तरह सुपर-30 की स्थापना करके आनंद एक आम आदमी से खास आदमी बन गए और कैसे उन्होंने गरीब और जरूरतमंद तबके के बच्चों को IIT की कोचिंग देकर उन्हें अपने सपनों की उड़ान भरने के लिए प्रेरित किया.

फिलहाल तो रितिक अपने दोनों बेटों रेहान और रिधान के साथ छुट्टियां मनाने एक हफ्ते के लिए अमेरिका जा रहे हैं, लेकिन खबर है कि वहां से लौटते ही वह इस फिल्म की तैयारी शुरू कर देंगे. बताया जा रहा है कि रितिक अपनी पिछली फिल्म काबिल की शूटिंग खत्म करने के बाद से ही इस फिल्म की स्क्रिप्ट पढ़ रहे थे और इस किरदार के बारे में काफी विचार-विमर्श करने के बाद ही उन्होंने इस फिल्म में काम करने के लिए हामी भरी. यह रितिक की पहली बायॉपिक होगी. हाल ही में लंदन से लौटै विकास बहल पिछले कुछ सालों से इस फिल्म की स्क्रिप्ट लिखने के लिए रिसर्च कर रहे थे.

हालांकि, आनंद के जीवन पर फिल्म बनाने के लिए पहले भी कई लोगों ने कोशिशें कीं, लेकिन आनंद ने ज्यादा रुचि नहीं दिखाई. वह नहीं चाहते थे कि उनके ऊपर कोई फिल्म बने, लेकिन विकास बहल ने किसी तरह अब उन्हें इसके लिए मना लिया है. बिहार के रहने वाले 44 साल के आनंद कुमार एक मशहूर गणितज्ञ हैं, जिन्होंने साल 2002 में पटना में सुपर-30 की स्थापना की थी, जहां गरीब तबके के छात्रों को IIT-JEE की एंट्रेंस एग्ज़ाम की तैयारी कराई जाती है. ताकि उन्हें आईआईटी में एडमिशन मिल सके.

यह भी पढ़ें-

सुपर-30 के बच्चों ने फिर गाड़े झंडे, JEE-Mains में 20 छात्र सफल
अमेरिका में बिहारियों से सम्मानित हुए आनंद