Exclusive : निखिल प्रियदर्शी तो जेल में बंद है, फिर फेसबुक कौन यूज कर रहा ?

Nikhil

पटना : पुलिस की स्‍पेशल टीम रात से पसोपेश में है. आगे की जांच जरूरी मानी जा रही है. दरअसल, पुलिस वाले जेल के बंदियों की एक्टिविटी को कई तरीकों से जांचते रहते हैं. मोबाइल के इस्‍तेमाल का तो पता किया ही जाता है, आजकल सोशल मीडिया के एकांउट पर भी नजर रखने का ट्रेंड है. अर्णब गोस्‍वामी वाले रिपब्लिक टीवी ने जब से लालू प्रसाद-शहाबुद्दीन की बातचीत के पुराने ऑडियो टेप जारी किये हैं, तब से पुलिस की स्‍पेशल टीम की निगरानी बिहार में और बढ़ी हुई है .

चौकसी कर रही पुलिस की स्‍पेशल टीम की नजर शनिवार की रात को अचानक कोलकाता की फ्रीलांस माडल मेघा अली के फेसबुक अकांउट पर गई. मेघा अली ने रात को साढ़े आठ बजे के करीब अपना नया फोटो पोस्‍ट किया था. इस फोटो में वह दुबई के नंबर की लग्‍जरी कार के साथ पोज देती दिख रही है. 17 मई को उसने सिंगापुर से अपनी तस्‍वीर पोस्‍ट की थी.

खैर, रात की फोटो पर पुलिस की स्‍पेशल टीम की नजर इसलिए ठहर गई, क्‍योंकि तब तक इस पोस्‍ट को करीब 1300 लाइक्‍स मिल चुके थे. इस लाइक्‍स में निखिल प्रियदर्शी को शामिल देख पुलिस वाले हैरान थे. सवाल यह कि कांग्रेस के पूर्व मंत्री की बेटी प्रिया (बदला हुआ नाम) के साथ यौन शोषण मामले में निखिल तो मार्च महीने से ही पटना के बेऊर जेल में बंद है, तो उसके फेसबुक एकांउट से माडल मेघा अली के पोस्‍ट पर यह लाइक कैसे आ गया.

Nikhil1

स्‍पेशल टीम ने अपने वरीय अधिकारियों को निखिल प्रियदर्शी के फेसबुक एकांउट की एक्टिविटी की जानकारी दी. फिर कुछ और जांच-परख हुई. कई स्‍क्रीनशॉट लिये गये. जांच के वक्‍त मेघा अली के फोटो को लाइक्‍स करने वालों की पूरी लिस्‍ट देखी गई. यह दोबारा कंफर्म हो गया कि लाइक्‍स निखिल प्रियदर्शी के एकांउट से ही है. पुलिस अभी यह नहीं जानती कि निखिल प्रियदर्शी माडल मेघा अली को जानता है भी कि नहीं.

इस पोस्‍ट के साथ लाइव सिटीज मीडिया यह नहीं कह रही कि फेसबुक एकांउट बेऊर जेल के भीतर से निखिल प्रियदर्शी स्‍वयं आॅपरेट कर रहा है. इसे पुलिस जांचेगी कि एकांउट जेल के भीतर से हैंडल हो रहा है कि बाहर से कोई निखिल प्रियदर्शी का एकांउट चला रहा है. वैसे जानकारी को यह भी रखें कि दिसंबर 2016 के बाद निखिल प्रियदर्शी ने अपने फेसबुक एकांउट में स्‍वयं की ओर से कोई स्‍टेटस अपडेट नहीं किया है.

इसे भी पढ़ें : निखिल प्रियदर्शी के मित्र संजीत शर्मा को हाई कोर्ट से झटका