उजमा ने चूमी हिंदुस्तान की माटी, कहा- पाकिस्तान तो मौत का कुआं है…

Ujma
वाघा बॉर्डर पर हिंदुस्तान की माटी को चूमती उजमा.

लाइव सिटीज डेस्क : जी हां, किस्मत की मारी उजमा अपना वतन लौट आयी है. अपने घर आने का सुकून उजमा के चेहरे पर साफ दिख रही थी. लगभग माह भर से वह पाकिस्तान में कैद होकर छटपटा रही थी. अब भारत में उसके कदम पड़ चुके हैं. भारत में कदम रखते ही वह रो पड़ी. आइए बताते हैं कौन है उजमा और किस तरह दुख के तमाम झंझावातों को झेलती पाकिस्तान से भारत का सफर तय की.

जी हां, दिल्ली की रहनेवाली उजमा माह भर से पाकिस्तान के युवक ताहिर की कैद में छटपटा रही थी. उसका वीजा से लेकर भारत लौटने वाले तमाम डॉक्यूमेंट्स को गायब कर दिया था. यहां तक कि उससे पाक युवक ताहिर अली ने बंदूक के बल पर निकाह कर​ लिया. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज व पाक स्थित भारत के हाई कमीशन के अथक प्रयास से उजमा अपना घर लौट आयी. वह जब वाघा बॉर्डर पर पहुंची तो काफी भावुक हो गयी. उसे सहसा विश्वास ही नहीं हो रहा था कि वे अपने वतन की धरती पर कदम रख चुकी है.

 

Ujma
वाघा बॉर्डर पर हिंदुस्तान की माटी को चूमती उजमा.

उजमा ने वाघा बॉर्डर पर पहुंचते ही अपनी माटी को चूमा. धरती मां को नमन किया. माटी को सिर से लगाया और खुशी से रो पड़ी. अपने घर लौटने की ख़ुशी क्या होती है, उस समय कोई उससे पूछता. उसने हिंदुस्तान की मिट्टी को माथे से लगाते हुए कहा कि मैं मौत के कुआं से बाहर निकल आयी हूं. उजमा ने पाकिस्तान को मौत का कुआं बताया. उजमा ने कहा कि मुझे अपने वतन हिंदुस्तान आकर बेहद खुशी हुई. अब लग रहा है कि मैं खुली हवा में सांस ले रही हूं. सच में अपना घर तो अपना घर ही होता है.

Ujma1
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उजमा ​का किया स्वागत.

बता दें कि भारतीय विवाहिता उजमा लगभग माह पर पहले अपने रिश्तेदार से मिलने पाकिस्तान गयी, तो वहां बंधक होकर रह गयी. पाकिस्तान में उससे ताहिर नामक युवक ने बंदूक के बल पर निकाह कर लिया. उसका पासपोर्ट गायब कर देगा. लेकिन भारत के विदेश मंत्रालय के अथक प्रयास से मामला इस्लामाबाद कोर्ट पहुंचा. कोर्ट ने उसे भारत आने की इजाजत दे दी. वाघा बॉर्डर तक पहुंचाने की जिम्मेवारी वहां के प्रशासन को दी गया.

uzma
भारतीय विवाहिता उजमा का फाइल फोटो.

उजाम ने कोर्ट में बताया कि वह पहले से ही शादीशुदा है. उसे बच्चे भी हैं. उन्होंने यह भी बताया कि उसका वीजा 30 मई को खत्म हो रहा है, लेकिन वीजा व अन्य डॉक्यूमेंट्स को ताहिर ने चोरी कर लिया है. उनके पास जितने भी कागजात थे, सबको ताहिर ने नष्ट कर दिया है. हालांकि ताहिर ने कोर्ट को यह कह कर बरगलाने का प्रयास किया कि वह और उज़मा मलेशिया में मिले थे और दोनों में प्रेम हो गया था.

लेकिन कोर्ट ने ताहिर की दलील को ठुकराते हुए उजमा को भारत आने की इजाजत दे दी.