‘तेजस्वी की वजह से राजनीति को ‘सेवा धर्म’ के बजाए ‘मेवा धर्म’ समझने लगे हैं युवा’

tejaswi-12
फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्कः RJD चीफ लालू प्रसाद के ठिकानों पर CBI की रेड के बाद से डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को लेकर खूब बयानबाजी हो रही है. विरोधियों की तो छोड़ दें अपने ही हमला बोल रहे हैं. महागठबंधन में तेजस्वी यादव को लेकर खूब बवाल मचा है. लालू प्रसाद कहते हैं कि महागठबंधन में सब चकाचक चल रहा है. लेकिन दूसरे ही पल एक ऐसा बयान सामने आ जाता है जो महागठबंधन में किचकिच की बात को सही साबित कर देता है. जदयू की ओर फिर बयानबाजी हुई है. ये जुबानी हमला डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को सीधा टारगेट कर किया गया है.

जदयू ने फिर जुबान खोली है. डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के खिलाफ. जदयू के प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा है कि तेजस्वी यादव माहौल बिगाड़ रहे हैं. उनकी वजह से युवाओं को गलत मैसेज जा रहा है. युवा अब राजनीति को सेवा धर्म नहीं बल्कि मेवा धर्म समझने लगे हैं. युवाओं को गलत संदेश जा रहा है.

बता दें कि तेजस्वी यादव को लेकर जदयू लगातार हमला बोल रहा है. राजद की ओर से सब कुछ ठीक है कि बात कही जाती है लेकिन जदयू का बयान फिर से बवाल खड़ा कर देता है. अजय आलोक का तेजस्वी के खिलाफ ये कोई पहला बयान नहीं है. इससे पहले जब सीएम नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव की मुलाकात को अच्छा बताया गया था. महागठबंधन की ओर से सुलह कराने के लिए शिवानंद तिवारी ने ऑल इज वेल की बात कही थी तब भी अजय आलोक ने मुह खोला था.

जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा था कि सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव की मुलाकात महज औपचारिक थी. इसका मतलब यह नहीं है कि तेजस्वी यादव को जवाब नहीं देना होगा. उन्होंने कहा था कि जदयू तेजस्वी यादव पर अपना स्टैंड साफ करेगा.

गौरतलब हो कि महागठबंधन में सब ठीक है कि बात महज शिगूफा मालूम पड़ती है. हर रोज सब ठीक है के बाद कुछ ऐसा हो जाता है जिससे यह साबित होता है कि अभी भी सब ठीक नहीं है. ऐसे में महागठबंधन में मचे उठापटक पर विरोधियों को हमला बोलने का मौका मिल जाता है.

यह भी पढ़ें-

जेडीयू का बड़ा हमला : कहा- तेजस्वी जल्द दें सफाई, हमारे चेहरे पर लग रहा दाग
BIG BAZAAR में निकली है बंपर वैकेंसी, 10वीं-12वीं पास अभी करें अप्लाई, मौका छूट न जाए

 

About Md. Saheb Ali 5178 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*