जदयू ने लालू प्रसाद से पूछा, कब तक रघुवंश सिंह से दिलवाते रहेंगे गाली!

Raghuvansh

पटना : एक बार राजद के वरीय नेता व पूर्व केंदीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह के बयान को लेकर जदयू और राजद में घमासान मच गया है. जदयू उनके बयान को लेकर पूरे आक्रोश में है और इसे लेकर उसने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से ही सवाल पूछ बैठा है. इतना ही नहीं, जदयू ने रघुवंश प्रसाद सिंह को बीजेपी का एजेंट बताते हुए राजद से निकालने की मांग तक कर दी है.

गौरतलब है कि राजद के वरीय नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपने नये बयान में केंद्र और बिहार सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने दो टूक कहा है कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और बिहार की नीतीश सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है. जनता को कोई फायदा नहीं मिल रहा है. रघुवंश सिंह के इस बयान के आने के बाद एक बार फिर बिहार की सियासत गरमा गयी है. जदयू और राजद आमने-सामने आ गये हैं. बयानबाजी शुरू हो गयी हे. हालांकि जदयू के बयान का पलटवार अभी राजद की ओर से नहीं आया है, लेकिन भाजपा इसमें जरूर कूद गयी है.

Raghuvansh

जदयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने रघुवंश सिंह को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने लालू प्रसाद से सवाल कर बैठा है कि वे कब तक रघुवंश सिंह से गाली सुनवाते रहेंगे. उन्होंने कहा है कि रघुवंश सिंह कब तक जदयू और उनके नेताओं को गाली बकते रहेंगे. संजय सिंह ने यहां तक कहा है कि रघुवंश सिंह बीजेपी के एजेंट हैं और राजद उन्हें पार्टी से जल्दी निकाले. हालांकि जदयू के इस बयान पर अभी राजद अथवा लालू प्रसाद की ओर से कोई ताजा बयान नहीं आया है.

राजनीतिक गलियारों में हो रही चर्चा के अनुसार हालांकि रघुवंश सिंह का नीतीश सरकार के खिलाफ यह कोई नया बयान नहीं है. इस तरह के विवादित बयान वे हमेशा देते रहते हैं और इसे लेकर बीच-बीच में दोनों दलों में खटास भी आता है. इधर रघुवंश सिंह के नये बयान से बिहार की सियासत अचानक गर्म हो गयी है. वहीं भाजपा के पार्टी प्रवक्ता विनोद नारायण झा ने भी रघुवंश सिंह के नीतीश सरकार के खिलाफ दिये गये बयान को सही ठहराते हुए कहा है कि बिहार सरकार हर मोर्चे पर विफल है. लेकिन भाजपा प्रवक्ता केंद्र की मोदी सरकार को विफल ठहराने पर वाले बयान से खुद को किनारा कर लिया है.

इसे भी पढ़ें : जहानाबाद में भूमि विवाद में दो लोगों की हत्या 
मधेपुरा-सहरसा में हड़कंपः अस्पतालों में ताला जड़ दे रहे हैं पप्पू यादव 
भीतर से सुलग रहा मधुबनी , बोल रहा DM-SP हाय-हाय