खत्म हुई RJD की मीटिंग, तेजस्वी होंगे विपक्ष के नेता

RJD-MEETING
लालू आवास पर मौजूद RJD नेता. फोटो : ANI

पटना : राजधानी पटना में लालू आवास पर चल रही राजद विधायकों की बैठक ख़त्म हो गई है. बैठक में पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को विधानसभा में विपक्ष का नेता बनाए जाने का फैसला किया गया है. वहीँ पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी विधान परिषद् में नेता प्रतिपक्ष होंगी. लालू प्रसाद ने आज पटना के दस सर्कुलर रोड स्थित राबड़ी आवास पर राजद विधायकों की बैठक बुलाई थी. जिसमें गुरुवार शाम रांची से लौटने के बाद वो शामिल हुए.

इससे पहले राजद विधायक दल की बैठक के दौरान लालू आवास पर कांग्रेस नेता भी पहुंचे. इनमें कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह, सीपी जोशी, विधानपार्षद दिलीप चौधरी और पूर्व शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी भी पहुंचे. लालू आवास पर भी शाम से ही भाई वीरेंद्र, शिवचंद्र राम समेत अनेक राजद नेताओं के पहुंचने का सिलसिला जारी था.

RJD-MEETING
लालू आवास पर मौजूद RJD नेता. फोटो : ANI

बता दें कि लालू प्रसाद की आज रांची में चारा घोटाला मामले में सीबीआई कोर्ट में पेशी हुई. लालू प्रसाद की पेशी तीन दिनों तक चलने वाली थी लेकिन गवाह नहीं पहुंचने की वजह से कोर्ट ने लालू प्रसाद को पेशी से राहत दे दी. जिसके बाद लालू पटना के लिए रवाना हो गए. लालू प्रसाद रांची से ही बिहार की सियासत पर नजर बनाए हुए थे. उन्होंने रांची गेस्ट हाउस से नीतीश कुमार पर जमकर निशाना भी साधा. उन्होंने कहा कि अफसोस है कि आज हमारे बीच सच का रास्ता दिखाने वाले गांधी नहीं हैं. गांधी की हत्या इन्हीं नरेंद्र मोदी और अमित शाह के नाथूराम गोडसे ने की थी और अब उसी नाथूराम गोडसे का मंदिर भाजपा बनाएगी.

लालू प्रसाद ने नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला और कहा कि नीतीश कुमार एेसे व्यक्ति हैं कि जिधर देखा खीर उधर ही मुंह करके बैठ जाते हैं. बीजेपी से डायवोर्स हुआ तो हमारे पास आए और हमने उन्हें मुख्यमंत्री बनाया लेकिन फिर वक्त आते ही बीजेपी की तरफ मुंह करके महागठबंधन को छोड़कर बीजेपी में मिल गए.

बता दें कि एक ओर जहां आज गुरुवार की सुबह नीतीश कुमार ने एनडीए के समर्थन के बाद मुख्यमंत्री पद की शपथ ली तो वहीं कभी उनके बड़े भाई कहे जाने वाले उनके सहयोगी रहे लालू प्रसाद रांची के सीबीआई कोर्ट में चारा घोटाला मामले में पेशी के लिए गए थे. रांची से ही लालू प्रसाद ने सीएम नीतीश कुमार पर खूब जुबानी तीर छोड़े हैं.

यह भी पढ़ें :

ध्यान दें : अगले 7 दिनों तक कैंसिल कर दी गई हैं 12 ट्रेनें, रेग्यूलेट कर चलेगी श्रमजीवी

कड़ी सिक्योरिटी में विधानसभा का विशेष सत्र, लगी धारा 144-हजार पुलिसवाले तैनात

खुल गया जेपी सेतु का जाम, DM बोले – उपद्रवी राजद कार्यकर्ताओं पर होगी FIR

भस्मासुर निकले नीतीश, उनका सांप्रदायिक विरोध ढोंग था, माफ नहीं करेगी बिहार की जनता