गोपालगंज से लश्कर का एजेंट अरेस्ट, NSUI का है नेता

गोपालगंज से गिरफ्तार धन्नु

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार के गोपालगंज से बड़ी खबर आ रही है. केंद्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने संदिग्ध हरकतों को लेकर एक युवक को गिरफ्तार किया है. मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार उसकी पहचान धन्नु राजा के रूप में हुई है. बताया जाता है कि एनआईए की गिरफ्त में आए धन्नु स्टूडेंट्स यूनियन एनएसयूआई से जुड़ा है. गोपालगंज में उसकी गिरफ्तारी के बाद से प्रशाासनिक महकमों में हलचल मचा हुआ है. मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार एनआइए को धन्नु पर लश्कर-ए-तैयबा का एजेंट होने का शक है. ट्रांजिट रिमांड पर धन्नु को दिल्ली ले जाने की बात कही जा रही है. वहीं उससे पूछताछ की जाएगी.

मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार धन्नु राजा की गिरफ्तारी गोपालगंज के नगर थाना क्षेत्र से हुई है. एनआईए की टीम ने धन्नु को जादोपुर चौक के पास से पकड़ा है. बता दें कि 28 नवंबर को यूपी के बनारस में मो. सोहैल खान को गिरफ्तार किया गया था. सोहैल पर लश्कर-ए-तैयबा का एजेंट होने का आरोप है. बताया जाता है कि गिरफ्तार सोहैल ने ही गोपालगंज में रहनेवाले धन्नु के नाम की जानकारी दी थी. सोहैल के पास से एजेंसी ने इंडियन आर्मी और देश के कई हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के नक्शे व फोटो बरामद किये थे.

आतंकी तौसीफ को गुजरात ले गई ATS, अहमदाबाद ब्लास्ट का है मास्टरमाइंड

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बनारस में पूछताछ में जांच एजेंसी को गोपालगंज में रहनेवाले धन्नु के बारे में जानकारी मिली. इसी के बाद एनआईए की टीम गोपालगंज पहुंची और धन्नु को नगर थाना क्षेत्र के जादोपुर चौक से गिरफ्तार कर लिया. वहीं कागजी खानापूर्ति के बाद धन्नु को जांच एजेंसी की टीम दिल्ली ले गयी है. वहीं उससे विस्तृत पूछताछ की जाएगी. गोपालगंज पुलिस ने भी धन्नु राजा की गिरफ्तारी की पुष्टि की है. आशंका जतायी जा रही है कि धन्नु की गिरफ्तारी के बाद बिहार से और भी गिरफ्तारी हो सकती है. इसके लिए प्रशासन को भी अलर्ट रहने की बात कही जा रही है.

बताया जाता है कि धन्नु गोपालगंज के सरेया मोहल्ले का रहनेवाला है. धन्नू मूलत: छपरा के अफूर गांव के निवासी फिरोज का पुत्र है धन्नु वहां अपने मामा के घर रहता था. यह भी बताया जा रहा है कि वह स्टूडेंट्स यूनियन एनएसयूआई से जुड़ा हुआ था. उसकी गिरफ्तारी के बाद जिला प्रशासन में खलबली मची हुई है. बता दें कि इसके पहले बिहार के गया से इसी साल सितंबर में बड़ी गिरफ्तारी हुई थी. उस समय आतंकी संगठन से जुड़े तौसिफ की गिरफ्तारी हुई थी. तीन दिन पहले तौसिफ को गुजरात एटीएस की टीम पूछताछ के लिए अपने स्टेट ले गयी है.