प्रेशर में हैं आनंद किशोर, 15 जून तक आ सकता है मैट्रिक का रिजल्ट

पटनाः BSEB के अध्यक्ष आनंद किशोर पर प्रेशर और बढ़ गया है. इंटर में टॉपर स्कैम पर किचकिच के बीच अब मैट्रिक का रिजल्ट भी जारी करना है. उम्मीद है कि मैट्रिक रिजल्ट के लिए 15 जून की तारीख मुकर्रर की गई है. इंटर रिजल्ट में जिस तरह टॉपर विवाद हुआ, उसके बाद बोर्ड किसी तरह की हड़बड़ी की स्थिति में नहीं है. फूंक-फूंक कर कदम रखा जा रहा है.

BSEB पर दबाव बहुत है

पिछले साल रिजल्ट घोषित होने के बाद क्लास 12th की रूबी रॉय को इंटर टॉपर का खिताब मिला. खूब सुर्खियां बटोरी रूबी ने. लेकिन फेक टॉपर की. इस बार फेक टॉपर और उम्र में घालमेल मामले में गणेश कुमार ने BSEB की खूब किरकिरी कराई है. फिलहाल पुलिस कस्टडी में हैं. इन सब के बीच बोर्ड को मैट्रिक का रिजल्ट भी जारी करना है. दबाव बहुत है.

बीएसईबी के अध्यक्ष आनंद किशोर लगातार कह रहे हैं कि जो भी मामला सामने आया है, उसमें बोर्ड की कोई गलती नहीं. उन्होंने सोमवार को कहा कि हमने इस बार निष्पक्ष परीक्षा आयोजित करने के लिए उत्तर पुस्तिकाओं की बार कोडिंग जैसे उपाए किए गए थे. संजय गांधी हाई स्कूल के प्रमुख देव कुमारी, उनके पति और स्कूल के सचिव राम कुमार चौधरी और कलर्क गौतम कुमार को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है.

मैट्रिक टॉपरों के लिए इनाम की घोषणा हो चुकी है

बता दें कि मैट्रिक टॉपरों के लिए सरकार ने पुरस्कार की पहले ही घोषणा कर रखी है. टॉपर को एक लाख नकद, लैपटॉप और किंडल ई-बुक रीडर दिया जायेगा. वहीं दूसरे टॉपर को 50 हज़ार, लैपटॉप और ई-बुक रीडर दिया जायेगा. तीसरे टॉपर को भी लैपटॉप, ई-बुक के साथ 15 हज़ार दिए जाएंगे.  मैट्रिक के टॉप 10 छात्रों को भी सम्मानित किया जायेगा. इन्हें पूर्व की भांति मिल रहे पुरस्कार दिए जाएंगे.

यह भी पढ़ें-

आनंद किशोर अभी BSEB के चेयरमैन बने रहेंगे, फर्जी स्‍कूलों पर कसेगा तेज शिकंजा
गजबे हैः BSEB में दो साल फेल हुआ, अब बिना पढ़े CBSE में 9.4 CGPA आ गया
BSEB : मुश्किल में लाखों मैट्रिक स्टूडेंट्स, गलत कॉपी चेकिंग मामले में 2 अधिकारी निलंबित