सीएम आवास में बढ़ी सरगर्मी, नीतीश से मिलने पहुंचे ललन सिंह व वशिष्ठ नारायण सिंह

CM

लाइव सिटीज डेस्क / पटना : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के आवास पर सीबीआई रेड के बाद बिहार की सियासत में उथल-पुथल मचा हुआ है. तेजी से घटनाक्रम बदल रहा है. राजद ने बैठक कर क्लियर कर दिया है कि तेजस्वी यादव डिप्टी सीएम के पद से इस्तीफा नहीं देंगे, तो विपक्ष उन्हें बर्खास्त करने की मांग पर अड़ा हुआ है. अब नये घटनाक्रम में जदयू में सुगबुगाहट तेज हो गयी है. वहां भी रणनीति बनने लगी है. मंत्री ललन सिंह और जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के अचानक सीएम आवास पहुंचने को इसी का संकेत माना जा रहा है.

दरअसल शुक्रवार को लालू-राबड़ी के 12 ठिकानों पर सीबीआई ने एक साथ छापेमारी की थी. इसके बाद तो महागठबंधन ही नहीं, बिहार की सियासत में भी गरमाहट आ गयी. इसके ठीक दूसरे ही दिन लालू प्रसाद की बेटी मीसा भारती व दामाद शैलेश कुमार के तीन ठिकानों पर ईडी ने छापेमारी की. उस समय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने स्वास्थ्य लाभ को लेकर राजगीर प्रवास पर थे.

सीबीआई छापेमारी के बाद सीएम ने राजगीर में ही आनन-फानन में जदयू प्रवक्ताओं की बैठक बुला कर इस मामले में कुछ भी नहीं बोलने का निर्देश दिया. तब से नीतीश कुमार व पार्टी प्रवक्ता सार्वजनिक तौर पर चुप हैं. हालांकि राजगीर से सीएम नीतीश कुमार के पटना लौटने के बाद जदयू की ओर से प्रवक्ताओं ने चुप्पी तो तोड़ी, लेकिन उनका निशाना हम के मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी रहे. इसके अलावा संजय सिंह ने भाजपा नेताओं को बेशर्म भी कहा.

CM

इधर राजद के पूर्व सांसद जगदानंद सिंह ने राजद विधानमंडल की बैठक के बाद हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक बयान देकर पॉलिटिकल कॉरिडोर में हलचल मचा दिया है. जगदानंद सिंह के मुताबिक सीबीआई रेड के बाद नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद से फोन पर बात की थी. सबकुछ ठीक होने की बात कही थी. हालांकि इस पर अभी तक जदयू की ओर से कोई बयान नहीं आया है.

बहरहाल मंत्री ललन सिंह और जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के सोमवार की सुबह अचानक सीएम आवास पहुंचने को लेकर पॉलिटिकल कॉरिडोर में फुसफुसाहट बढ़ गयी है. लोग तरह-तरह के कयास लगा रहे हैं. कोई भी नेता सार्वजनिक तौर पर कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं. लेकिन इतना सब तय मान रहे हैं कि तेजस्वी यादव के नाम पर कुछ ‘राजनीतिक तूफान’ आने वाला है.

बताते चलें कि मंगलवार को जदयू की बैठक सीएम आवास में होनेवाली है. इसे लेकर पार्टी से जुड़े सभी मंत्रियों, विधायकों, एमएलसी, प्रकोष्ठों के अध्यक्षों को आने के लिए कहा गया है. सभी की नजर उस पर लगी हुई है कि कल क्या होगा.

इसे भी पढ़ें : राजद की बैठक में हो गया फैसला, तेजस्वी नहीं देंगे इस्तीफा 
CBI रेड के बाद लालू से नीतीश ने की थी फोन पर बात, कहा था- हम साथ हैं 
सुमो पर अटैक मोड में लालू फैमिली, बेटी-दामाद सोशल मीडिया पर ले रहे हैं सीधा मोर्चा