बदमाशों ने चाचा को चाकू से गोद डाला, भतीजे को जमकर पीटा

आरा/कोईलवर (पुष्कर पांडेय) : आपसी विवाद के दौरान मामले ने ऐसा तूल पकड़ा कि कोइलवर थाना क्षेत्र के सोन नदी किनारे बालू घाट पर नशे में धुत 4 की संख्या में रहे नामजदों ने रास्ते से जा रहे चाचा और भतीजे की पिटाई शुरू कर दी. भतीजा गिरता-पड़ता किसी तरह बच कर भाग निकला, लेकिन चाचा बच नहीं सके. उन्हें बदमाशों ने चाकू से गोद डाला. मौके पर ही उनकी मौत हो गयी. घटना से वहां भगदड़ मच गया.

सूचना मिलते ही कोइलवर के थानाध्यक्ष पंकज सैनी आनन-फानन अपराधियों का पीछा किया. इसमें सफलता भी मिली. भाग रहे चार में से एक विजेंद्र उर्फ नागा को पुलिस ने धर दबोचा. वहीं तीन अन्य की तलाश के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है.

बताया जाता है कि कोइलवर नगर पंचायत के वार्ड 13 निवासी स्व मानिक चंद्र चौधरी के 35 वर्षीय पुत्र छोटेलाल चौधरी अपने भतीजे के साथ कोइलवर सोन नद की तरफ से घर आ रहे थे. तभी बालू घाट पर 4 की संख्या में रहे बदमाशों ने घेर लिया. वे सब दोनों से पैसा छीनने लगे. छोटे लाल चौधरी ने पैसा देने से मना किया, तो बदमाशों ने दोनों की पिटाई शुरू कर दी. भतीजा किसी तरह भाग निकला, लेकिन चाचा उनकी चंगुल से छूट नहीं सका. इसके बाद दनादन चाकुओं से गोद कर 35 वर्षीय छोटे लाल की हत्या कर दी गई.

उधर छोटे लाल चौधरी की मौत की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया. चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया. इधर घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी भागने लगे, तब तक स्थानीय पुलिस को इसकी सूचना मिल चुकी थी. उन्होंने आनन फानन में अपराधियों को पकड़ने के लिए घेराबंदी शुरू कर दी. पुलिस ने कोइलवर बाजार की तरफ भाग रहे एक अभियुक्त विजेंद्र उर्फ नागा को गिरफ्तार कर लिया. वहीं पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है. पुलिस ने बताया कि जल्द ही बाकी बदमाशों को भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा. गिरफ्तार विजेंद्र से पुलिस पूछताछ कर रही है.

इसे भी पढ़ें : अपराधियों को पकड़ने में पटना पुलिस फेल, ठेकेदार और ड्राइवर के हत्यारों का अब तक सुराग नहीं 
व्यवसायी हत्याकांडः डिप्टी मेयर के बेटे और हम के राष्ट्रीय प्रवक्ता हो सकते हैं गिरफ्तार