इस सावन आप बोलबम जा रहे हैं तो देख लें क्या है चूड़ा-पेड़ा का नया रेट

लाइव सिटीज डेस्कः आपके लिए जरूरी ख़बर है. इस सावन आप भोलेनाथ के दर्शन के लिए बाबाधाम जा रहे हैं तो एक बार पढ़ लें. बहुत फायदा मिलेगा. अब देवघर में आप ठगी का शिकार नहीं होंगे. वहां के दुकानदार आपको ठग नहीं सकेंगे. प्रशासन ने पूरा इंतजाम कर लिया है. सभी चीजों पर रेट फिक्स कर दिया गया.

हर साल देवघर जाने वाले श्रद्धालु बड़े पैमाने पर ठगी का शिकार होते हैं. क्वालिटी तो छोड़ दें प्रसाद पर रेट भी बहुत ज्यादा लिया जाता है. मजबूरी में वहीं खरीदना पड़ता है. लेकिन अब क्वालिटी और रेट को लेकर बिहार सरकार की तरह झारखंड सरकार ने कमर कस ली है. जिला प्रशासन ने इसके लिए लोकल व्यापारियों के साथ एक मीटिंग की है. जिसमें सभी सामानों पर मूल्य तय कर दिया गया है. प्रसाद का रेट फिक्स कर दिया गया है. मालूम हो कि पूरी कांवरिया यात्रा के सफर में बिहार सुल्तानगंज से लेकर बांका तक के होटलों में भोजन पर भी रेट तय है.

देख लें नई रेट लिस्ट-

  • पेड़ा- 300 रुपये केजी
  • निम्न क्वालिटी का पेड़ा- 280 रुपये केजी
  • इलायची दाना(मुकुन दाना)- 60 रुपये केजी
  • चूड़ा- 36 से 44 रुपये केजी

इस नई रेट लिस्ट के जारी होने के बाद अब ठगी नहीं हो सकेगी. अगर ठगी करते या फिर किसी दुकानदार की ठगी की शिकायत मिलने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी.

बता दें कि बाबानगरी में श्रावणी मेला 10 जुलाई से शुरू होगा. इसकी तैयारी के मद्देनजर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने देवघर सर्किट हाउस में बैद्यनाथधाम व बासुकिनाथ श्राइन बोर्ड की बैठक की. बैठक में कई महत्वपूर्ण एजेंडे पर मुहर लगायी गयी. बैठक में श्रम मंत्री राज पलिवार ने देवघर व बासुकिनाथ में श्रावणी मेला में मांस-मदिरा की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव दिया. इधर बिहार सरकार ने भी अपनी तैयारी पूरी कर ली है. इसके लिए भागलपुर, मुंगेर और बांका जिला प्रशासन ने भी कमर कस ली है.

यह भी पढ़ें-

जान लें देवघर में अब ऐसे नहीं होंगे दर्शन, हो गया फैसला
बिहार में सिर्फ राजनीति ही नहीं होती, यहां के हौसले भी बुलंद हैं, खूब पैदा हो रहा है मोती