फिर एक्शन में दिखे SSP मनु महाराज, कार्रवाई नहीं होने पर थानेदार को फोन पर झाड़ा

पटना(नियाज आलम) : राजधानी में कानून व्यवस्था और अपराध पर नियंत्रण रहे इसके लिए एसएसपी मनु महाराज लगातार अपने थानेदारों कों हिदायत देते रहते हैं. मनु महाराज का क्विक रिएक्शन ही उनकी पहचान है. ऐसा ही क्विक रिएक्शन उस वक्त दिखा जब एसएसपी के जनता दरबार में मनेर की एक महिला अपनी फरियाद लेकर पहुंची. कार्रवाई न होने की बात पर एसएसपी ने तुरंत संबंधित थाने  के अधिकारी को फोन पर डांट पिलाई. तुरंत रिजल्ट के लिए आवश्यक निर्देश भी दिए.

जनता दरबार में फरियादियों से मिले SSP

दरअसल गुरुवार को एसएसपी के जनता दरबार में फरियादियों की भारी भीड़ देखने को मिली. एसएसपी सबकी शिकायतें सुन रहे थे. इसी दौरान मनेर के हुलासी टोला से आई सुमन ने भी एसएसपी से मदद की गुहार लगाई. सुमन के मुताबिक उनका विवाद उनके ही पड़ोसी से था. जमीन पर अवैध कब्जे को लेकर काफी दिनों से कहा-सुनी चल रही थी. सुमन ने जब अपनी जमीन पर मिट्टी भराई का काम शुरू किया तो दबंगों का कहर टूट पड़ा. इस सुमन के साथ मारपीट भी हुई. इतना ही नहीं दबंगों ने उनके परिवार पर फायरिंग भी की. फायरिंग में सुमन के परिवार की एक महिला को गोली भी लगी. उनकी जान जाते-जाते बची.

‘एफआईआर के बाद भी कार्रवाई नहीं हो रही’

सुमन ने मनु महाराज को बताया कि अभी भी उनके परिवार को धमकियां मिल रही हैं. इस मामले में पहले ही स्थानीय थाने में मामला दर्ज कर दिया गया है. जिसकी केस संख्या 143/17 है. इसके बाद भी उन्हें पुलिस से कोई मदद नहीं मिल रही है. दबंग केस वापस लेने का दबाव बना रहे हैं. हालात ऐसे हैं कि परिवार के लोग अब घर से बाहर निकलने में भी डरते हैं.

थानेदार को फोन पर झाड़ा

महिला की फरियाद सुनने के बाद मनु महाराज ने तुरंत संबंधित थाना के अधिकारी को फोन लगाया और जम कर डांट पिलाई. एसएसपी ने इस मामले में जल्द कार्रवाई करने का भी निर्देश थानेदार को दिया.

उधर पत्रकारों से बातचीत में एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि आज जनता दरबार में लोग अपनी शिकायतें लेकर पहुंचे थे. जिनकी शिकायतें सुनी गईं. जिन मामलों में कार्रवाई नहीं हो रही है, उनके निपटारे के लिए जरूरी निर्देश भी दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों का काम ही है लोगों को संतुष्ट करना. हालांकि उन्होंने कहा कि अगर थाना स्तर पर कमी देखी जाएगी तो उस पर भी एक्शन लिया जाएगा.

यह भी पढ़ें-

नप गए रूपसपुर के थानेदार , हुए लाइन हाजिर