नो एंट्री विवाद : पहले CO साहब पिटा गये, गुस्से में SDO ने पुलिस जवानों को धुन दिया

मुंगेर (सुनील जख्मी) : मुंगेर में जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के बीच आमने-सामने ठन गई है. नो एंट्री में गाड़ी घुसाने को लेकर मामला बढ़ा तो पहले ट्रैफिक पुलिस के जवान पीटे गये. बदले में पुलिस ने बरियारपुर प्रखंड के सीओ को धुन दिया. बात इतनी बढ़ गयी कि मुंगेर के एसडीओ ने सीओ का पक्ष लेते हुए पुलिस जवानों को दोबारा पीट दिया. उधर इस मामले में एसडीओ ने किसी तरह की पिटाई से इनकार किया है.

बताया जा रहा है कि घटना के विरोध में मंगेर समाहरणालय में बुधवार को पुलिस के जवानों ने एसडीओ और सीओ पर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. वहीं सीओ के समर्थन में प्रशासनिक कार्यालय बरियारपुर में प्रखंड कार्यालय बंद कर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर प्रखंड कर्मी चले गए हैं.

दरअसल जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन में समझौता कराने के लिए डीएम उदय कुमार सिंह व एसपी आशीष भारती बैठकर मामला का हल निकाल रहे हैं. पुलिस के जवानों ने एक स्वर में कहा कि सीओ का समर्थन करनेवाले मुंगेर के सदर एसडीओ डॉ कुंदन प्रसाद पर कार्रवाई हो.

बताया जाता है कि बुधवार सुबह करीब 10:00 बजे बरियारपुर के सीओ मुकुल कुमार झा अपने निजी ड्राइवर के साथ वाहन से मुंगेर आ रहे थे, उस समय मुंगेर के अंबे चौक पर नो एंट्री लगी हुई थी. सीओ के ड्राइवर ने नो एंट्री में ही अपनी गाड़ी घुसा दी. इस पर ट्रैफिक पुलिस ने रोक कर उसे वापस गाड़ी ले जाने को कहा. इसे लेकर विवाद बढ़ गया. सीओ के ड्राइवर ने ट्रैफिक पुलिस पर हाथ चला दिया और दोनों में हाथापाई हो गई.

munger

ट्रैफिक पुलिस के साथ हाथापाई के दौरान ही पीछे से पुलिस का बज्र वाहन आ गया. उसे लगा कि कोई आम आदमी ट्रैफिक पुलिस को पीट रहा है. ब्रज वाहन वालों ने सीओ तथा उसके ड्राइवर को अपनी गाड़ी में बैठा लिया और दोनों की जमकर धुनाई कर दी. फिर दोनों को मुंगेर व्यवहार न्यायालय के परिसर में छोड़ दिया. सीओ पुलिस के द्वारा पीटने के बाद अपने ड्राइवर के साथ मुंगेर के सदर अनुमंडल पदाधिकारी के पास पहुंचा. फिर क्या एसडीओ मुंगेर ने अंबे चौक जाकर पहले ट्रैफिक पुलिस की पिटाई की और वापस कोर्ट परिसर में भी पुलिस कर्मी की पिटाई की. इसके बाद मामला तूल पकड़ लिया. अब मुंगेर समाहरणालय के बाहर पुलिस के जवान एक हो कर हंगामा कर रहे हैं. वहीं डीएम और एसपी बैठकर समझौता का हल निकालने में लगे हैं. लेकिन, स्थिति सामान्य नहीं हो सकी है.

इसे भी पढ़ें : सीएम नीतीश से मिले नेपाल के पीएम, कहा- मिलकर निकालेंगे बाढ़ का हल  

(लाइव सिटीज न्यूज़ के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*