मसौढ़ी में पुलिस-पब्लिक में हिंसक झड़प, लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, RJD विधायक गिरफ्तार

पटना (अमित जायसवाल) : मसौढ़ी के धनरुआ में आज बुधवार को खूब हंगामा हुआ. पुलिस और पब्लिक के बीच भिड़ंत हुई. इसमें कई लोग जख्मी हुए हैं. बताया जा रहा है कि मसौढ़ी की विधायक रेखा देवी अपने समर्थकों के साथ सड़क पर उतर आईं. स्टेट हाइवे -1 को कई घंटे तक जाम रखा गया. पुलिस के साथ उनके समर्थक उलझ गए. पुलिस की टीम पर जमकर रोड़ेबाजी की गई. पथराव में डीएसपी-थानाध्यक्ष समेत सात पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. उधर हंगामा करने सड़क पर उतरीं राजद विधायक रेखा देवी को पुलिस ने हिरासत में लिया है.

दरअसल पटना जिले के मसौढ़ी के धनरुआ में सड़क जाम हटाने के मामले में पुलिस-पब्लिक में झड़प हो गई. इस झड़प में सात पुलिसकर्मी और कई ग्रामीण घायल हुए हैं. आरजेडी विधायक रेखा देवी के नेतृत्व में लोग सड़क पर बैठकर पूर्व मुखिया पति राजेश बिंद की रिहाई की मांग कर रहे थे. सड़क जाम की सूचना मिलने पर कई थानों की पुलिस और डीएसपी सुरेंद्र कुमार मौके पर पहुंचे. पुलिस ऑफिसर कई घंटों तक ग्रामीणों को सड़क जाम हटाने के लिए समझाते रहे, लेकिन लोग नहीं माने. इसके बाद पुलिस ने सख्ती बरतनी शुरू की.

पुलिस ने जैसे ही सड़क पर बैठे लोगों को जबरदस्ती उठाना शुरू किया गांव के लोगों ने पथराव कर दिया. पथराव में पुलिस के सात जवान घायल हो गए. इनमें डीएसपी और इंस्पेक्टर भी शामिल हैं. सभी को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. पथराव के बाद पुलिस ने लाठीचार्ज शुरू कर दिया. गांव के लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया. इसके साथ ही पुलिस ने विधायक रेखा देवी और उनके तीन समर्थकों को हिरासत में ले लिया है.

क्या है पूरा मामला

यह मामला पुलिस हिरासत से शराब पीने के दो आरोपियों को जबरदस्ती छुड़ाने के बाद भड़क गया है. मंगलवार शाम को पुलिस ने दो लोगों को शराब पीने के आरोप में पकड़ लिया था. इसके बाद पूर्व मुखिया पति और राजद के लोकल नेता राजेश बिंद अपने समर्थकों के साथ पहुंचे और दोनों आरोपियों को जबरदस्ती पुलिस हिरासत से छुड़ाकर अपने साथ ले गए. बुधवार सुबह पुलिस पूर्व मुखिया को हिरासत में लेकर थाने ले आई. इसके बाद गांव के लोग भड़क गए और विधायक रेखा देवी के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन करते हुए सड़क जाम कर दिया.

 

यह भी पढ़ें-

बागी शरद यादव बनाएंगे नई पार्टी !, जदयू बोला- वे स्वतंत्र हैं
गुस्से में हैं भाजपा विधायक अनिल सिंह, मंत्री नहीं बनने पर निकाली भड़ास