यात्रीगण ध्यान दें, अब रनिंग ट्रेन से आउटर पर उतरे तो पकड़ लेगी पुलिस

लाइव सिटीज डेस्कः ट्रेनों के जरिए शराब तस्करी को रोकने के लिए अब पुलिस स्पेशल फोर्स का गठन करने जा रही है. जी हां.. स्‍टेशन के पहले आउटर पर ट्रेनों से उतरने वाले यात्री सावधान हो जायें. ट्रेन के स्टेशन पर रुकने से पहले आउटर पर रूकने के दौरान उतरने वाले यात्रियों के सामान की तलाशी ली जाएगी. शराब की तस्करी को रोकने के लिए रेल पुलिस अब आरपीएफ व जिला पुलिस इन यात्रियों के बैग की तलाशी लेगी.

किसी भी प्रमुख स्टेशन के आउटर पर ट्रेनों के रुकते ही बड़ी संख्या में यात्री उतर जाते हैं और ऑटो पकड़कर अपने घर चले जाते हैं. पटना जंक्शन के लोहानीपुर, सिपारा एवं यारपुर के पास आउटर पर ट्रेनों के रुकते ही शराब के तस्कर ऑटो अथवा पहले से बुलाए गए वाहनों से शराब लेकर निकल जाते हैं.

रेल पुलिस महानिरीक्षक अमित कुमार के निर्देश पर रेल पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र मिश्र, आरपीएफ कमांडेंट चन्द्र मोहन मिश्र एवं ग्रामीण एसपी ललन मोहन प्रसाद के साथ ही तमाम थानाध्यक्ष व डीएसपी आपस में समन्वय बैठक कर शराब की तस्करी पर पूरी तरह से रोक लगाने की कवायद शुरू कर दी है.

इस मामले में रेल एसपी ने बताया कि अब आउटर सिग्नल पर रेल पुलिस के साथ ही स्थानीय पुलिस के अधिकारी भी वहां पहले से ही सादे वर्दी में मौजूद रहेंगे. संदेह के आधार पर यात्रियों के सामान की तलाशी लेंगे. पटना जंक्शन, गया जंक्शन, राजेन्द्र नगर, बाढ़, बख्तियारपुर, मोकामा, हथिदह, जहानाबाद, आरा, बक्सर, दानापुर समेत अन्य स्टेशनों पर शराब तस्करों की गिरफ्तारी के लिए सघन अभियान चलाए जाएंगे.

रनिंग ट्रेनों में भी सादी वर्दी में पुलिसकर्मी सफर करते रहेंगे और शक होने पर किसी के सामान की तलाशी लेंगे. इससे शराब तस्करों में भय होगा और ट्रेनों से इसकी तस्करी को बंद कर देंगे. पहले से सख्ती बढ़ा दी गई है.

यह भी पढ़ें-

ब्रह्मपुत्र मेल में भीषण डाका, भागलपुर में यात्रियों का जमघट