बिहार में जहरीली ‘जाम’ पर सियासत तेज, बयानों को पढ़कर आपको भी गुस्सा आएगा

लाइव सिटीज डेस्कः रोहतास में जहरीली शराब से पांच लोगों की मौत मामले में सीएम के संज्ञान के बाद क्विक एक्शन हुआ. 12 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया. अब मामला रानीतिक रूप ले चुका है. खूब बयानबाजी हो रही है. एक तरफ सरकार मामले पर खुद का बचाव कर रही है, तो वहीं विपक्ष छोड़ने के मूड में नहीं है. पॉलिटिकल कॉरीडोर में खूब चर्चा हो रही है.

इस मामले में राजद ने सरकार को घेरा है. इस मामले में राजद विधायक और प्रदेश प्रवक्ता भाई बीरेंद्र ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार के लोग ही शराब बेचने का धंधा कर रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि जब सत्ताधारी दल के नेता खुद शराब पी रहे हैं तो ऐसी घटनाएं होंगी ही. भाई बीरेंद्र ने कहा है कि नीतीश सरकार हर मोर्चे पर फेल साबित हो रही है.

bhai-virendra
फाइल फोटो

वहीं ट्विटर पर एक्टिव रहने वाले एक्स डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट करते हुए नीतीस सरकार पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने लिखा है कि नीतीश जी ने उनके साथ मिलकर सरकार बनाई जो शराबबंदी को कड़ा कानून कहते थे. अब इस दर्दनाक हादसे के बाद कार्रवाई की जा रही है.

उधर सरकार का बचाव करते हुए जदयू बिहार प्रदेश अध्यक्ष और वरिष्ठ नेता वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा है कि इस मामले पर सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी. दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. वहीं बिहार सरकार में मंत्री श्रवण कुमार ने कहा है कि यह पूरा मामला शरारती तत्वों के कारण हुआ है. वहीं बिहार में शराब बेचने का काम कर रहे हैं. शराब से हुई मौत मामले में कड़ी कार्रवाई कड़ी कार्रवाई.

बता दें कि आज शनिवार को रोहतास जिले के कछवा थानाक्षेत्र के दनवार गांव में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत हो गई है. कई लोगों की हालत गंभीर है. जिनका इलाज अलग-अलग जगहों पर निजी अस्पतालों में चल रहा है. इसकी पुष्टि शाहाबाद रेंज के डीआइजी मोहम्मद रहमान ने की है. घटना के बाद थानाध्यक्ष सहित बारह पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है.